Home / संसार / ईरान में कोरोना से और 135 की मौत, अब तक 988 लोगों की गई जान; फ्रांस पूरी तरह से लॉकडाउन

ईरान में कोरोना से और 135 की मौत, अब तक 988 लोगों की गई जान; फ्रांस पूरी तरह से लॉकडाउन

ईरान में कोरोना वायरस से और 135 लोगों की मौत के साथ ही इस बीमारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 988 हो गई है, जबकि इस रोग से संक्रमितों के 16169 मामले सामने आये हैं। ईरान के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता कियानौश जहांपुर ने मंगलवार को टेलीविजन पर प्रसारित एक संवाददाता सम्मेलन में यह आंकड़ा दिया। मृतकों की संख्या में लगातार वृद्धि से विशेषज्ञों की चिंता बढ़ गई है क्योंकि देश में इस महामारी पर काबू नहीं पाया जा सका है।

तेहरान से प्राप्त समाचार के अनुसार इस बीच सर्वोच्च नेता अयातुल्ला खामनेई ने कोरोना वायरस के मद्देनजर अनावश्यक यात्रा पर पाबंदी लगाते हुए एक आदेश जारी किया। अर्धसरकारी मीडिया ने उनका यह फतवा प्रकाशित/प्रसारित किया। पेरिस से मिली खबर के अनुसार फ्रांस ने मंगलवार (17 मार्च) को कोरोना वायरस के मद्देनजर पूरी तरह बंदी की ओर कदम बढ़ा दिया। ऐसा करने वाला वह एक और देश बन गया है।

यूरोपीय नेता इस महाद्वीप में सभी गैर जरूरी यात्रा पर पाबंदी लगाने की योजना बना रहे हैं। फ्रांसीसी राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने कोविड-19 के खिलाफ संघर्ष को ‘युद्ध’ करार दिया। दुनियभर में सरकारें अपने नागरिकों को सुरक्षित रखने के लिए जद्दोजेहद में जुटी हैं, वे ऐसे कदम उठा रही हैं जो बमुश्किल शांति काल में उठाए जाते हैं। वे सीमाओं को बंद कर रही है और नागरिकों को उनके घरो में रहने के लिए बाध्य कर रही है।

कोविड-19 के चलते दुनियाभर में 7000 से अधिक लोगों की जान चली गई है। चीन के बाद से सबसे अधिक प्रभावित इटली में 2100 की इस बीमारी से मौत हुई है। फ्रांसीसी दवा कंपनी सनोफी और अमेरिकी दवा कंपनी रेजररोन ने भी कहा कि उन्होंने नई दवा केवजरा (टीका-शामक) का क्लीनिक परीक्षण शुरू किया है। रूस ने भी कहा कि उसके वैज्ञानिकों ने टीका प्रतिकृति का परीक्षण शुरू किया है। ब्रिटेन ने सभी गैर जरूरी संपर्क और यात्रा बंद करने का आह्वान किया है। स्विटरजरलैंड ने आपात की घोषणा कर दी है।

जर्मनी ने गिरजाघरों, मस्जिदों, खेल के मैदानों आदि स्थानों पर इकट्ठा होने पर रोक लगा दी है। कोलंबो से प्राप्त समाचार के अनुसार श्रीलंका ने कोरोना वायरस के मद्देनजर उसके यहां आने वाली अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगा दी है। श्रीलंका में कोरोना वायरस के 29 सत्यापित मामले सामने आए हैं। राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के कार्यालय के अनुसार देश में आने वाली सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर अस्थायी रोक मंगलवार तीन बजे से प्रभावी होगी। श्रीलंका ने सार्वजनिक छुट्टी 19 मार्च तक के लिए बढ़ा दी है। सोलह मार्च को सार्वजनिक छुट्टी की घोषणा की गयी थी।

Check Also

PM नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति द्वारा लिखे पत्र का दिया जवाब

 प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति द्वारा लिखे पत्र का बड़ा ही भावनात्मक जुड़ाव ...