Home / स्पॉट लाइट / ऑनलाइन जिस्म का धंधा, वाट्सएप ग्रुप में होता सौदा, ऐसा हुआ खुलासा

ऑनलाइन जिस्म का धंधा, वाट्सएप ग्रुप में होता सौदा, ऐसा हुआ खुलासा

कानपुर। कल्याणपुर थानाक्षेत्र स्थित एक घर पर पिछले कई माह से देह व्यापार का कारोबार चल रहा था। सटीक सूचना पर पुलिस ने छापा मारकर इस रैकेट का भंड़ाफोड़ कर तीन युवतियों समेत आठ लोगों को गिरफ्तार किया। गैंग का सरगना दिलीप शुक्ला है। जो नेपाल, बंगाल के अलावा देश के अन्य शहरों से युवतियों की खरीदारी कर उन्हें कानपुर लाता और वाट्सएप ग्रुप के जरिए ग्राहक उनकी बोली लगाता था। पुलिस ने मौके से कई अन्य लड़कियों के साथ ही गैंग के सदस्यों के नाम बरामद किए हैं।

इस तरह से चला रहा गोरखधंधा
एसएसपी अनंत देव तिवारी के मुताबिक इस गैंग के बारे में काफी समय से पुलिस को सूचना मिल रही थी। ये लोग वाट्सअप के जरिये अपने ग्राहकों को खास स्थान पर बुलाते थे। उसके पहले वाट्सएप ग्रुप पर फोटो भेज कर युवतियों के रेट तय कर लेते थे। ग्राहकों को समय के अनुसार युवतियां सौप देते थे। इसके बाद ग्राहक उन्हें को अपने साथ लेकर चले जाते थे । पकड़ी गई युवतियां बंगाल नेपाल और दिल्ली की है।

दिलीप गैंग का सरगना
पुलिस के मुताबिक गैंग का सरगना दिलीप शुक्ला है। जो नेपाल, दिल्ली, बंगाल के साथ देश के कई शहरों से गरीब लड़कियों को पैसे के जाल में फंसाता फिर उनकी कीमत देकर देह व्यापार के धंधे में उतार देता था। पुलिस की मानें तो दिलीप बहुत शातिर है। पुलिस से बचने के लिए आरोपी ने वाट्सएप ग्रुप बनाकर रखा था। इसी के जरिए दिलीप युवतियों की फोटो डालता। ग्राहक युवतियों को पसंद करते और कीमत देकर अपने ठिकानों में बुलाते थे।

खड़ा कर लिया बड़ा नेटवर्क
शुक्ला ने अपने साथियों के साथ बड़ा नेटवर्क खड़ा कर लिया। कानपुर ही नहीं आसपास के जिलों में भी आरोपी लड़कियों को ग्राहकों पैसे लेकर मुहैया कराता था। पुलिस अब होटलों और ग्राहकों को लिस्ट तैयार कर रही है। जल्द ही गैंग से जुड़े अन्य लोगों के अलावा युवतियों की भी तलाश कर रही है।

Check Also

“Advocate Mr Dinesh Kumar Misra and his family shall not be arrested”: HC

Prayagraj  “Till the next date of listing, petitioners advocate Mr Dinesh Kumar Misra and his ...