Home / संसार / कोविड 19 को लेकर पेरिस में नया खतरा, पानी में कोरोना वायरस मिला

कोविड 19 को लेकर पेरिस में नया खतरा, पानी में कोरोना वायरस मिला

संक्रामक महामारी कोरोना वायरस का एक और बड़ा खतरा सामने आया है। फ्रांस की राजधानी पेरिस शहर में पानी में भी कोविड-19 के विषाणु पाए गए हैं। शहर के एक अधिकारी ने इसकी पुष्टि की है।

अधिकारी सेलिया ब्लाउल ने बताया कि पेरिस के गैर पीने योग्य पानी में नए कोरोना वायरस के ‘माइनसक्यूल’ सूक्ष्म निशान पाए गए हैं। यह पानी सड़कों की सफाई आदि में इस्तेमाल किया जाता है। अधिकारी ने कहा कि फिलहाल पीने के पानी के दूषित होने का कोई खतरा नहीं है।

ब्लाउल ने बताया कि पेरिस जल प्राधिकरण की प्रयोगशाला ने राजधानी के चारों ओर से एकत्रित 27 नमूनों में से चार में वायरस की सूक्ष्म मात्रा का पता लगाया है। एहतियात के तौर पर इन केंद्रों को तत्काल बंद कर दिया गया। इसकी उच्च स्तरीय जांच की जा रही है।

चीन ने वुहान को कम जोखिम वाला क्षेत्र घोषित किया

वहीं कोरोना वायरस महामारी का केंद्र रहे वुहान को चीन ने कम जोखिम वाला इलाका घोषित किया है। हालांकि, कुछ दिन पहले शहर में संक्रमितों और मृतकों की संख्या संबंधी आंकड़ों में वृद्धि दर्ज की गई थी। स्वास्थ्य अधिकारियों ने रविवार को बताया कि देश में कोरोना संक्रमण के 16 नए मामले सामने आए हैं।

चीन की राज्य परिषद के दिशा-निर्देशों के अनुसार, जोखिम का आकलन नए मामलों के आधार पर किया जाता है। जिन शहरों, काउंटी और जिलों में बीते 14 दिन में किसी नए मामले की पुष्टि नहीं हुई हो, उसे कम जोखिम वाले इलाके की श्रेणी में रखा जाता है। जहां 50 से कम मामले हों या अधिक मामले होने के बावजूद बीमारी फैल नहीं रही हो, उन्हें मध्यम जोखिम की श्रेणी में रखा जाता है। जहां 50 से अधिक मामले और बीमारी फैल रही हो उन्हें उच्च जोखिम वाला क्षेत्र माना जाता है।

Check Also

PM नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति द्वारा लिखे पत्र का दिया जवाब

 प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति द्वारा लिखे पत्र का बड़ा ही भावनात्मक जुड़ाव ...