Home / संस्कार / जानें आखिर कपल्स इंगेजमेंट रिंग बाएं हाथ की चौथी अंगूली में ही क्यों पहनते है

जानें आखिर कपल्स इंगेजमेंट रिंग बाएं हाथ की चौथी अंगूली में ही क्यों पहनते है

शादी एक बहुत ही पवित्र बंधन माना जाता है। जो कि हर धर्म में अलग-अलग रिति रिवाज के साथ रस्में की जाती है। इन्हीं में से एक रस्म है सगाई की। जी हां इंगेजमेंट जो कि हर धर्म में अधिकतर एक जैसी होती है। अक्सर आपने देखा होगा कि सगाई की अंगूठी बाएं हाथ की चौथी अंगूली में ही पहनी जाती है। ऐसे में हमारे दिमाग में आता है कि आखिर इसी अंगूली में ही क्यों पहनती है। लोग सोचते है कि यह एक ट्रेंड है। लेकिन आपको बता दें कि इसके पीछे कई वजह और लॉजिक छिपे हुए है। जानें इनके बारें में….

हम आपके एक सिपंल टेस्ट बता रहे है। जिसे करके आप आसानी से जान सकते है कि यह अंगूली आपके लिए कितनी जरुरी है। जो कि जीवसाथी को शो करती है। सबसे पहले अपने दोनों हाथों की हथेली को खोलकर एक-दूसरे के सामने लाएं। इसके बाद अंगूठे से अंगूठे, इंडेक्स अंगूली से इंडेक्स अंगूली और इसी तरह अन्य अंगूली को जोड़ लें।

वहीं अंगूठो को आप आपस में हटाकर जोड़ सकते है। जो कि माता पिता का माना जाता है। क्योंकि आपके पेरेंट्स आपके साथ जीवनभर खुशियां पाने के लिए रहते है। अब आप पहली अंगूली ओपन करें जो कि भाई-बहन को दर्शाती है। वह आसानी से हिल सकती है। जिससे पता चलता है कि भाई बहन पहले और बाद में आते है।

इसके बाद अपनी छोटी अंगूली को खोले और जोड़े। जो कि आपके बच्चों के लिए है। जो कि आपके सपनों के पीछे भागते है। सगाई की अंगूठी पहनने वाली अंगुली अपने जगह से हिलती नहीं है चाहें आप जितना कोशिश कर लें। यह पति-पत्नी को दर्शाता है। जो कि हमेशा एक साथ रहते है बहूत ही मजबूती के साथ।

Check Also

अक्षय तृतीया आज: ध्यान रखें, खरीदी गई वस्तु अक्षय नहीं होती

अक्षय तृतीया: खरीदी गई वस्तु अक्षय नहीं होती: आचार्य श्री अमिताभ जी महाराज अक्षय तृतीया ...