Home / पोस्टमार्टम / ‘डबल बैरल’ है मेरा बेटा, क्रिकेट खेलने से लेकर मंत्री बनने तक…यूं सफलता की सीढ़ी चढ़ते गए सिंधिया

‘डबल बैरल’ है मेरा बेटा, क्रिकेट खेलने से लेकर मंत्री बनने तक…यूं सफलता की सीढ़ी चढ़ते गए सिंधिया

ज्योतिरादित्य और उनके पिता के कई किस्से है, जिसमें ट्रेजरी हंट, जंगल में खुले में घूमने जैसे खेल शामिल हैं। सूत्र बताते हैं कि माधवराव उन्हें निडर और साहसी बनाना चाहते थे, इसलिए बचपन में उन्हें टफ टास्क देते थे।ज्योतिरादित्य और उनके पिता के कई किस्से है, जिसमें ट्रेजरी हंट, जंगल में खुले में घूमने जैसे खेल शामिल हैं। सूत्र बताते हैं कि माधवराव उन्हें निडर और साहसी बनाना चाहते थे, इसलिए बचपन में उन्हें टफ टास्क देते थे।

Check Also

लखनऊ में साल की सबसे ज्यादा बारिश: उत्तर प्रदेश में भारी बारिश का रेड एलर्ट*

लखनऊ में साल की सबसे ज्यादा बारिश: उत्तर प्रदेश में भारी बारिश का रेड एलर्ट* ...