Home / स्पॉट लाइट / मादक पदार्थों की तस्करी का प्रमुख केंद्र बना गंगाघाट क्षेत्र

मादक पदार्थों की तस्करी का प्रमुख केंद्र बना गंगाघाट क्षेत्र

पुलिस अधीक्षक विक्रांतवीर और गंगा घाट कोतवाल सतीश कुमार गौतम के सख्त होने के बावजूद कुछ वर्दीधारी साख पर बट्टा लगाने का काम कर रहे है

एसपी और कोतवाल प्रभारी की छवि को धूमिल करने का कुछ लोग कर रहे प्रयास, कोतवाली में दलालो का प्रवेश पूर्णतया बंद

उन्नाव/ शुक्लांगज ।

अपराधों की नगरी कहे जाने वाली  गंगा घाट कोतवाली  क्षेत्र आजकल मादक पदार्थों की तस्करी का प्रमुख केंद्र बन गया है, जहां एक ओर जिले के कप्तान विक्रांत वीर जिले की कानून व्यवस्था को  सुदढ़ रूप से संचालित करने में लगे हुए हैं वही गंगा घाट कोतवाली क्षेत्र में बढ़ती मादक पदार्थों की तस्करी एक सवालिया निशान खड़ा करती है। सूत्रों की मानें तो कुछ वर्दीधारी रुपयों के लालच में मादक पदार्थ तस्करों को खुलेआम करने दे रहे हैं वही उन्नाव पुलिस अधीक्षक विक्रांतवीर और गंगा घाट कोतवाल सतीश कुमार गौतम के अथक प्रयास के बावजूद  भी गांजा माफिया वह सट्टा संचालक नहीं  मान रहे हैं ये लोग मौत की पुड़िया  खुलेआम नगर क्षेत्र में बेच रहे है। कुछ लोगों ने नाम न छापने की शर्त में बताया कि मादक पदार्थों की तस्करी बिना पुलिस के सहयोग के नहीं होती है यह मादक पदार्थ तस्कर नगर से सटे जनपद कानपुर से और जनपद की सीमा के पास के क्षेत्रों में स्थानीय पुलिस की मदद से अपना धंधा चमकाने में लगे हुए हैं वही यह लोग नगर के युवाओं को बर्बाद करने में लगे हुए हैं मादक पदार्थों का सेवन करने से नगर में अपराध का ग्राफ बढ़ा है वहीं युवा मादक पदार्थों के सेवन करने से बर्बाद हो रहा है।

रिपोर्ट-राजेश उर्फ वीरू मिश्रा

Check Also

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 3 करोड़ घरों के निर्माण कराएगी सरकार

सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के तहत 3 करोड़ ग्रामीण और शहरी घरों के निर्माण ...