Home / स्पॉट लाइट / मुन्ना बजरंगी मर्डर केस में शुरु हुई सीबीआई जांच, इस गैंगस्टर का आया है नाम

मुन्ना बजरंगी मर्डर केस में शुरु हुई सीबीआई जांच, इस गैंगस्टर का आया है नाम

लखनऊ । बागपत जेल में नौ जुलाई 2018 को मारे गए माफिया प्रेमप्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी के मामले में सीबीआई की स्पेशल क्राइम ब्रांच ने मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। इसी क्रम में आज सीबीआई जेल का भी दौरा कर सकती हैं।

मुन्ना बजरंगी की जेल में हत्या के बाद उनकी पत्नी लगातार इलाहाबाद हाईकोर्ट में इसकी पैरवी कर रही थी। उन्होंने पति की हत्या में कई लोगों पर साजिश रचने और जेल के अंदर हत्या करवाने का आरोप लगाया था।

कोर्ट ने 25 फरवरी को इस मामले की सीबीआई जांच के आदेश दिए थे। इसी क्रम में सीबीआई की स्पेशल क्राइम ब्रांच ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू की है। रविवार को सीबीआई की टीम बागपत जेल पहुंचकर जांच कर सकती है।

फिलहाल सीबीआई ने बागपत के खेकड़ा थाने में मुन्ना बजरंगी की हत्या में दर्ज एफआईआर को ही अपनी एफआईआर का आधार बनाया है। आने वाले दिनों में सीबीआई एक और नई एफआईआर भी दर्ज कर सकती है।

गौरतलब है कि 8 जुलाई 2018 की देर शाम झांसी जेल से एक मामले में पेशी के लिए मुन्ना बजरंगी को बागपत जेल लाया गया था। 09 जुलाई की सुबह करीब छह बजकर पन्द्रह मिनट पर बागपत जेल में उम्र कैद की सजा काट रहे सुनील राठी ने गोली मारकर मुन्ना बजरंगी की हत्या कर दी थी।

कौन है सुनील राठी
मुन्ना बजरंगी की हत्या का आरोप सुनील राठी पर आ रहा है। सुनील उत्तराखंड और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अपराध जगत में सबसे बड़ा नाम बड़ा है। अपने पिता की हत्या के बाद उसने जुर्म की दुनिया में कदम रखा था।

इसके बाद उसने एक-एक करके चार लोगों की निर्मम हत्या की थी। सुनील राठी का नाम तब सुर्खियों में आया था, जब पिछले साल उसने रुड़की शहर के एक प्रतिष्ठित डॉक्टर एनडी अरोड़ा से पचास लाख की रंगदारी मांगी थी। उस पर सात लाख रुपये का इनाम है।

Check Also

Lucknow: एस.एम.एस. में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित 

एस.एम.एस. में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित  वर्ष 2024 का लोकसभा आम चुनाव दिनांक 19 अप्रैल ...