Home / स्पॉट लाइट / सहेली के साथ मिलकर पति को मार डाला, कर रहा था समलैंगिक का विरोध, ऐसे तैयार किया था 30 दिन में खौफनाक ये प्लान

सहेली के साथ मिलकर पति को मार डाला, कर रहा था समलैंगिक का विरोध, ऐसे तैयार किया था 30 दिन में खौफनाक ये प्लान

अलीगढ (Uttar Pradesh) । समलैंगिक संबंध के कारण एक महिला ने सहेली के साथ मिलकर अपने ही पति को मौत के घाट उतार दिया। इस वारदात को दोनों ने अंजाम देने के लिए एक महीने में प्लान तैयार किया था। एसपी सिटी अभिषेक कुमार ने बताया महिला की सहेली उसी के मकान में किराए पर रहती थी। दोनों के समलैंगिक संबंध की जानकारी होने पर पति ने विरोध किया था, जिसके बाद दोनों ने इस वारदात को अंजाम देने के लिए होली का दिन चुना। इस दिन पत्नी ने पति को जमकर शराब पिलाई। इसके बाद दोनों ने मिलकर उसकी गला दबाकर हत्या कर दिया, फिर उसका हाथ-पैर रस्सियों से बंधकर नाले में फेंक दिया था। हालांकि दोनों आरोपी महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया गया है।

यह है पूरा मामला
गांधी पार्क थाना क्षेत्र के कुंवर नगर निवासी भूरी सिंह गोस्वामी की लाश होली की रात को एक नाले में मिला था, जिसका हाथ-पैर बंधा रस्सियों से बंधा था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाकर हत्या करना का मामला सामने आया, जिसके बाद पुलिस मामले की गहनता से जांच शुरू की।

पहले सुनाई थी ये कहानी
एसपी सिटी अभिषेक कुमार ने बताया कि हत्या के बाद मृतक भूरी सिंह गोस्वामी की पत्नी रूबी से पूछताछ की तो उसने बताया कि पति होली के मौके पर पैसे का तगादा करने के लिए निकला था। लेकिन, वह घर वापस नहीं पहुंचा। वहीं,मृतक के भाई ने भाभी रूबी और किराएदार हरिओम व उनकी पत्नी रजनी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने आरोप के आधार पर गहनता से जांच की तो सच सामने आ गया।

ऐसे खुला राज
पुलिस ने मृतक मृतक भूरी सिंह गोस्वामी की पत्नी रूबी से गहनता से पूछताछ की तो उसने अपराध कबूल कर लिया। आरोपी महिला ने पूछताछ में बताया कि उसका किराए पर मकान में रह रही रजनी से समलैंगिक संबंध है। इसकी जानकारी पति को हो गई थी और वह इसका विरोध करता था। होली के दिन दोनों ने हत्या की साजिश रची और फिर उसे दूसरे दिन यानी 11 मार्च को वारदात को अंजाम भी दे डाला।

इस तरह की हत्या
हत्यारोपी रूबी और उसकी सहेली रजनी ने बताया कि हत्या करने का ये प्लान एक महीने से तैयार किया था। हत्या के लिए होली की रात को चुना गया था। होली पर प्लान के तहत भूरी सिंह गोस्वामी को शराब पिलाई गई थी और फिर उसे मौत के घाट उतार कर उसका शव मृतक के भाई के घर के पास फेंक दिया, ताकि किसी को शक न हो।

Check Also

Dr. Karan Singh’s 75 Years of Public Service

Celebrating a Unique Achievement Dr. Karan Singh’s 75 Years of Public Service Srinagar, June 19: ...