Home / पोस्टमार्टम / होली से पूर्व यह 5 महत्वपूर्ण बातें हर किसी को पता होनी चाहिए। नहीं पता तो जल्दी देख लो…

होली से पूर्व यह 5 महत्वपूर्ण बातें हर किसी को पता होनी चाहिए। नहीं पता तो जल्दी देख लो…

वर्तमान समय में हम जिन रंगों से होली खेलते हैं उन्हें बेहद हानिकारक केमिकल होते हैं जिसकी वजह से हमें स्वास्थ्य संबंधी कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। आज हम बात करेंगे कि होली खेलते समय में कौन कौन सी सावधानियां रखनी चाहिए जिससे हमारे त्यौहार की मस्ती का मजा कम ना हो।

1. प्राकृतिक रंगों का करें इस्तेमाल।

होली खेलते समय हमें रेडीमेड रंगों के स्थान पर प्राकृतिक रंगों का इस्तेमाल करना चाहिए। रेडीमेड रंग विभिन्न प्रकार के केमिकल और तेजाब से बने होते हैं उनका सीधा असर हमारे चेहरे और हाथों की त्वचा पर होता है। प्राकृतिक रंगों के इस्तेमाल से हमें किसी भी प्रकार की त्वचा संबंधी परेशानियां नहीं होती है। हालांकि प्राकृतिक रंग खरीदने में थोड़े महंगे होते हैं लेकिन बाद में स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां होने पर लगने वाले दवाइयों के खर्चे से हमें बचा सकते हैं।

2. त्वचा की सुरक्षा का रखें विशेष ध्यान।

होली खेलते समय हम रंगों की मस्ती में इतनी घुलमिल जाते हैं कि हमें कुछ भी याद नहीं रहता है। होली खेलने से पूर्व हमें अपनी त्वचा की सुरक्षा से संबंधित सभी इंतजाम कर लेने चाहिए। रंग खेलने से पूर्व त्वचा पर किसी भी प्रकार की तैलीय क्रीम या सरसों के तेल से मालिश कर ले। इससे अप्राकृतिक रंगों से होने वाले नुकसान से बचा जा सकता है। नारियल के तेल का इस्तेमाल करने से भी हम रंगों से होने वाली जलन से छुटकारा पा सकते हैं।

3. आंखों की करें विशेष देखभाल।

आंखें हमारे शरीर का सबसे सेंसेटिव हिस्सा होती है। इनकी देखभाल करना अति आवश्यक है। ध्यान रखें आंखों में किसी भी प्रकार का रंग नहीं जाना चाहिए। अगर गलती से हमारी आंखों में रंग चला जाता है तो तुरंत ठंडे पानी से आंखों को धोना चाहिए। आंखों को जोर जोर से रगड़ना नहीं चाहिए क्योंकि ऐसा करने पर आंखों में गहरे जख्म बन सकते हैं। आंखों में रंग चला जाने पर तुरंत चिकित्सक परामर्श लेने में देरी ना करें।

4. प्राकृतिक रंगों से बालों को बचाएं।

अप्राकृतिक या अत्यधिक पक्के रंगों से अपने बालों को बचाना चाहिए। पक्के रंग हमारे बालों की जड़ों में जाकर जम जाते हैं जिसे साफ करने में हमें काफी मशक्कत का सामना करना पड़ता है। अगर यह रंग पूरी तरह से हमारे बालों से नहीं छूटता है तो इससे हमारे शरीर में कई प्रकार की बीमारियां उत्पन्न हो जाती है। अधिक समय तक बालों की जड़ों में रंग का असर रहने के कारण हमारे बाल जल्दी पकने लगते हैं और धीरे-धीरे टूटना शुरू हो जाते हैं, इसलिए रंग खेलते समय ध्यान रखें बालों में अधिक पक्का रंग नहीं लगना चाहिए।

5. नशा करके होली ना खेले।

बहुत से लोगों को देखा जाता है कि वह होली खेलने से पूर्व अत्यधिक मात्रा में शराब या अन्य नशीले पदार्थों का सेवन कर लेते हैं। नशा करके होली खेलने से हमें होश हवास नहीं रहता है जिसकी वजह से हम सड़क या नाले में गिर सकते हैं। हमें काफी चोटें भी लग सकती है। इसलिए नशा करने के बाद होली नहीं खेलनी चाहिए। कई बार देखा जाता है कि नशा करके होली खेलने से लड़ाई झगड़े भी हो जाते हैं और आपसे झगड़ों में एक दूसरे को चोट भी पहुंचा दी जाती है।

Check Also

भारत में जलवायु परिवर्तन का भयंकर प्रभाव: तूफानी बाढ़ प्रेरित आपदा

भारत में जलवायु परिवर्तन का भयंकर प्रभाव: तूफानी बाढ़ प्रेरित आपदा आज जलवायु बहुत तेजी ...