Home / संस्कार / 15 मार्च शीतला सप्तमी को करें यह उपाय, आपकी अधूरी मनोकामनाएं होगी पूरी

15 मार्च शीतला सप्तमी को करें यह उपाय, आपकी अधूरी मनोकामनाएं होगी पूरी

चैत्र माह के कृष्ण पक्ष की सप्तमी तिथि को शीतला सप्तमी की पूजा की जाती है, माता शीतला को रोगों को दूर करने वाली माता माना जाता है, कई स्थानों पर माता शीतला को चेचक नाम से भी लोग जानते हैं, आपको बता दें कि इस वर्ष शीतला सप्तमी 15 मार्च 2020 को पड़ेगी, इस दिन सुहागिन स्त्रियां शीतला माता की पूजा अर्चना करती है और इनकी पूजा के साथ ही अपने घर परिवार की परेशानियों को दूर करने की माता से प्रार्थना करती है।

मान्यता अनुसार अगर शीतला सप्तमी पर कुछ उपाय किए जाए तो इससे व्यक्ति को शुभ फल की प्राप्ति होने की संभावना रहती है और उनको अपने कामकाज में कामयाबी मिलती है, आज हम आपको शीतला सप्तमी के दिन किए जाने वाले कुछ उपायों के बारे में जानकारी देने वाले हैं, जिनको करके आप अपनी परेशानियों से मुक्ति पा सकते हैं।

आइए जानते हैं शीतला सप्तमी को कौन से करें उपाय

  • अगर आप नकारात्मक ऊर्जा से बचना चाहते हैं तो इसके लिए शीतला सप्तमी के दिन नीम के पेड़ की पूजा करें और नीम के पेड़ की जड़ में जल अर्पित कीजिए, अगर आप इस दिन नीम का पेड़ लगाते हैं तो इससे आपको शुभ फल की प्राप्ति होती है, नीम का पेड़ लगाने से आप सभी तरह की नकारात्मक ऊर्जा से बच सकते हैं।
  • अगर आप अपने जीवन में हर प्रकार के लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आप शीतला सप्तमी के दिन पांच सफेद कौड़ियां लीजिए और शीतला माता को अर्पित करें, इसके साथ ही आप मंत्र “ऊँ ह्रीं श्रीं शीतलायै नमः।” का 108 बार जाप कीजिए, इससे आप को अपने जीवन में कई प्रकार के लाभ के अवसर प्राप्त होंगे।

  • घर परिवार पर शीतला माता की कृपा बनाए रखने के लिए आप शीतला सप्तमी के दिन किसी भी रास्ते के पत्थर को माता शीतला का स्वरूप मानते हुए इसको अच्छी तरह पानी से धोकर इसकी पूजा कीजिए और मंत्र “शीतले त्वं जगन्माता शीतले त्वं जगत्पिता।, शीतले त्वं जगद्धात्री शीतलायै नमो नम:।।” का जाप करें, इससे माता शीतला की कृपा दृष्टि आपके परिवार पर हमेशा बनी रहेगी और घर परिवार के लोगों का स्वास्थ्य अच्छा रहेगा।
  • अगर आप अपनी संतान की तरक्की चाहते हैं तो इसके लिए आप शीतला माता के चरणों में हल्दी की गांठ स्पर्श कराकर उसको पानी की मदद से पीसकर अपने बच्चे के मस्तिष्क पर तिलक जरूर लगाएं, इस उपाय को करने से बच्चों की तरक्की मिलने की संभावना बढ़ती है।
  • बेहतर भविष्य की कामना हेतु आप शीतला माता को गुड़ और बाजरा अर्पित कीजिए, इस उपाय को करने से आपको शीतला माता का आशीर्वाद प्राप्त होगा और भविष्य को उज्जवल बनाने में जो भी बाधाएं उत्पन्न होंगी उसका समाधान हो सकता है।
  • अगर आप अपने घर परिवार की खुशियां बनाए रखना चाहते हैं, घर की सुख समृद्धि चाहते हैं तो इसके लिए इस शुभ दिन पर शीतला माता को चावल के दाने और जौ अर्पित करें और माता रानी से हाथ जोड़कर प्रार्थना कीजिए, जब आप शीतला माता को चावल और जौ अर्पित कर दे तब उस उनमें से आप थोड़े से दाने उठाकर कागज की पुड़िया में बांधकर अपने पास रख लीजिए, इस उपाय को करने से घर-परिवार की सुख-समृद्धि बनी रहती है।

Check Also

अक्षय तृतीया आज: ध्यान रखें, खरीदी गई वस्तु अक्षय नहीं होती

अक्षय तृतीया: खरीदी गई वस्तु अक्षय नहीं होती: आचार्य श्री अमिताभ जी महाराज अक्षय तृतीया ...