Home / Slider / भारत विकास परिषद, प्रयाग शाखा ने किया “अधिवक्ता दिवस” का आयोजन

भारत विकास परिषद, प्रयाग शाखा ने किया “अधिवक्ता दिवस” का आयोजन

“चरित्र से ही हमारी पहचान होती है।” : न्यायमूर्ति अरुण टंडन

प्रयागराज।
भारत विकास परिषद, प्रयाग शाखा ने होटल प्रयाग इन में अधिवक्ता दिवस का आयोजन किया जिसमें इलाहाबाद उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायमूर्ति श्री अरुण टंडन सहित कई वरिष्ठ अधिवक्ताओं को सम्मानित किया गया।

भारत विकास परिषद प्रयाग शाखा के संस्थापक सदस्य रहे पूर्व एडवोकेट जनरल श्री रामेश्वर प्रसाद गोयल की स्मृति में अधिवक्ता सम्मान की शुरुआत की गई। इस अवसर पर वरिष्ठ अधिवक्ता श्री प्रदीप कुमार गुप्ता और श्री आर पी अग्रवाल को मुख्य अतिथि न्यायमूर्ति माननीय श्री अरुण टंडन ने स्मृति चिन्ह प्रदान करके तथा शाल ओढाकर सम्मानित किया।

इस अवसर पर बोलते हुए मुख्य अतिथि न्यायमूर्ति अरुण टंडन ने कहा कि चरित्र से ही हमारा व्यक्तित्व निखरता है और हमारी पहचान होती है। जिन महान व्यक्तियों ने समाज के लिए त्याग किया है और उच्च आदर्श प्रस्तुत किए हैं उन्हें याद किया जाना चाहिए। अधिवक्ता दिवस के अवसर पर डॉ राजेंद्र प्रसाद और रामेश्वर प्रसाद गोयल के साथ-साथ न्यायमूर्ति एच आर खन्ना को भी याद करना बेहद प्रासंगिक है ।

सी ए डॉ नवीन चंद्र अग्रवाल ने स्मृति चिन्ह प्रदान करके तथा शाल उड़ाकर मुख्य अतिथि न्यायमूर्ति अरुण टंडन का सम्मान किया।

इस अवसर पर विशिष्ट स्थिति प्रदीप कुमार ने कहा कि इंडिया से भारत बनाने की यात्रा देश की सांस्कृतिक पहचान से जुड़ी हुई है और इसके लिए भारत विकास परिषद को जन आंदोलन करना चाहिए। विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ अधिवक्ता आरपी अग्रवाल ने कहा कि भारत विकास परिषद सदैव समाज के अग्रणी लोगों को समाज सेवा से जुड़ने का महानीय कार्य करता रहा है ।अधिवक्ता दिवस मनाने की नई परंपरा अत्यंत प्रशंसनीय है ।

भारत विकास परिषद प्रयाग शाखा की अध्यक्षता डॉ श्रीमती अल्पना अग्रवाल ने मुख्य अतिथि सहित सभी का स्वागत किया और परिषद के उद्देश्यों पर भी प्रकाश डाला। प्रयाग शाखा के संस्थापक सदस्य श्री चंद्र मोहन भार्गव ने रामेश्वर प्रसाद गोयल के व्यक्तित्व और उनके द्वारा किए गए महत्वपूर्ण कार्यों पर प्रकाश डाला।

इस अवसर पर अपर महाधिवक्ता उत्तर प्रदेश श्री मनीष गोयल ने अपने संदेश में कहा कि अधिवक्ताओं ने अन्याय के विरुद्ध समर्पित भाव से देश के नागरिकों की आवाज को खोने नहीं दिया है और बड़े-बड़े आंदोलन को अपनी बौद्धिक क्षमता से बड़ी सहजतापूर्वक मुकाम पर पहुंचा है। डॉ उमेश प्रताप सिंह ने रामेश्वर प्रसाद गोयल के भारत विकास परिषद के प्रति समर्पण को याद किया ।

मुख्य अतिथि का परिचय वरिष्ठ अधिवक्ता श्री अरुण त्रिपाठी ने दिया। विशिष्ट अतिथि का परिचय डॉ बृजेश कुमार और डॉ राजेश कुमार गर्ग ने दिया ।

कार्यक्रम का संचालन सचिव डॉ विवेक भदोरिया ने तथा धन्यवाद ज्ञापन संयोजक डॉक्टर सुनील कांत मिश्रा ने किया। इस अवसर पर श्री जी के खरे, श्री सुनील धवन, श्री सुभाष मिश्रा, डॉ पुरुषोत्तम केसरवानी, श्री विनोद रस्तोगी, एडवोकेट टी पी शुक्ला, राकेश मित्तल सहित अनेक गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Check Also

সিটি অফ জয় কলকাতায় আসন্ন বলিউড ফিল্ম ‘কুসুম কা বিয়াহ’ -এর প্রিমিয়ার অনুষ্ঠিত হল*

*সিটি অফ জয় কলকাতায় আসন্ন বলিউড ফিল্ম ‘কুসুম কা বিয়াহ’ -এর প্রিমিয়ার অনুষ্ঠিত হল* কলকাতা, ...