Friday , February 3 2023
Home / विविध / मन की बात

मन की बात

Pathan Film: “जब मूवी कल्पना है तो भारत के नजरिए से बनानी चाहिए”

सिनेमा से क्या हम यह भी अपेक्षा नहीं रख सकते हैं कि जो भी हो अपने देश के विचारों से अलग न हो ? Advocate Shiv Anand Chaurasiya Allahabad High court बात कल्पना की है, अभिव्यक्ति की आजादी की है, सिनेमा की स्वतंत्रता की है, लेकिन देश का क्या? देश ...

Read More »

पंडित केशरी नाथ त्रिपाठी: एक अजातशत्रु नेता, एक लोकप्रिय इलाहाबादी

श्रद्धा स्मरण/ पंडित केशरी नाथ त्रिपाठी एक अजातशत्रु नेता, एक लोकप्रिय इलाहाबादी वरिष्ठ पत्रकार रतिभान त्रिपाठी  पंडित केशरी नाथ त्रिपाठी। विधिवेत्ता केशरी नाथ त्रिपाठी। कवि केशरी नाथ त्रिपाठी। राजनेता केशरी नाथ त्रिपाठी। जन जन के प्रिय केशरी नाथ त्रिपाठी…. व्यक्ति एक संज्ञाएं अनेक। वह केशरी नाथ त्रिपाठी हैंं जो प्रयागराज ...

Read More »

“क़िस्सा हल्द्वानी की मुसम्मात रामप्यारी का”: कबीरा खड़ा बाज़ार में 24: हरिकांत त्रिपाठी IAS

“क़िस्सा हल्द्वानी की मुसम्मात रामप्यारी का” हरिकांत त्रिपाठी, IAS जब मैं वर्ष 1985-86 में हल्द्वानी में अपर परगना मजिस्ट्रेट था तो उसी समय वहाँ रामप्यारी शर्मा नाम की एक महिला रहा करती थीं । रामप्यारी करीब ४५ साल उम्र की लम्बी-तड़ंगी साँवले रंग की अधेड़ महिला थीं जिन्हें सुन्दर तो ...

Read More »

London की जेल में भूख से रोए, तिहाड़ जेल में मौज ही मौज

आंसुओ ने बयां किया… जेल है! पांच सितारा होटल नहीं …!! के. विक्रम राव Twitter ID: @Kvikramrao टेनिस दिग्गज बोरिस बेकर पिछले, बृहस्पतिवार (15 दिसंबर 2022), को वैंडसर (लंदन) जेल में रो दिए। आंसुओं का कारण ? यह अरबपति खिलाड़ी बोला : “पहली बार जेल में जाकर ही मैंने जाना ...

Read More »

“जब शीर्ष पशु प्रेमी का पुरस्कार पाते पाते रह गया मैं”: पालू जौनपुरी

  (सिर्फ कहानी नहीं है, हकीकत है ) “चूहा और पद्मश्री”                पालू जौनपुरी बात बहुत पुरानी नहीं। अभी पिछले महीने की है। मेरे घर- परिवार क्या मेरे मोहल्ले में भी जश्न का माहौल था। मुझे बधाइयां पर बधाइयां मिल रही थी। और बात ...

Read More »

सोनिया और उनकी कांग्रेस…..”एक चेहरा यह भी!”: रामकृपाल सिंह

  सोनिया और उनकी कांग्रेस…..“एक चेहरा यह भी!” रामकृपाल सिंह बात 1959 की है। केंद्र में कांग्रेस सरकार थी और जनसंघ (भारतीय जनता पार्टी) विपक्षी पार्टी थी। उन दिनों जनसंघ कांग्रेस के खिलाफ जोरदार आंदोलन चला रही थी। उन्हीॅ दिनों प्रधानमंत्री को विदेश जाना पड़ा और जनसंघ ने अपना आंदोलन ...

Read More »

श्री गीता पाठ को लोकप्रिय बनाने का अभियान: महामना मालवीय मिशन लखनऊ

श्री गीता पाठ को लोकप्रिय बनाने का अभियान  -डॉ दिलीप अग्निहोत्री भगवत गीता में विचलित मन को स्थितप्रज्ञ बनाने के वैज्ञानिक सूत्र है. आधुनिक विज्ञान ने भी इस तथ्य को स्वीकार किया है. विकसित देशों तक कर्मयोग की गूंज है. इसके माध्यम से वह कुशल प्रबंधन की प्रेरणा ले रहे ...

Read More »

** वह भारत जो कभी था…..** मानसी प्रसाद, पुणे (महाराष्ट्र)

 वह भारत जो कभी था मानसी प्रसाद पुणे (महाराष्ट्र) हिंदू धर्म, संस्कृति और समाज- जो आज है, वह हमारे अतीत की परछाई भर भी नहीं है। हमारा अतीत यह है कि हम कभी समस्त विश्व के सम्मान एवं श्रद्धा के केंद्र थे। हम अतीत में क्या थे, यह जिक्र करने ...

Read More »

“जब एक जिलाधिकारी अपने ही सस्पेंशन की घोषणा पर ताली बजाते हुए देखे गए”

हरिकांत त्रिपाठी, IAS   मेरी सेवा का अधिकांश समय मुलायम सिंह जी की राजनीति के तले ही बीता पर मुझे उनकी दो बैठकों में शामिल होने का अवसर मिला जो आज बहुत शिद्दत से याद आ रही हैं। वर्ष 2005 में मैं मुख्य विकास अधिकारी सिद्धार्थनगर के पद पर कार्यरत था। ...

Read More »

“भटकाव के लपेटे में नारी सशक्तिकरण”:  प्रेमा राय

भटकाव के लपेटे में नारी सशक्तिकरण  प्रेमा राय          वर्तमान समाज में नारी सशक्तिकरण पर विशेष बल दिया जा रहा है और सामाजिक उत्थान का इसे प्रबलतम सोपान माना जा रहा है जबकि इस सोच के बहुत दुष्परिणाम सामने आ रहे हैं। वस्तुतः नारी का घरेलू उत्पीड़न, ...

Read More »