Friday , February 3 2023
Home / साहित्य

साहित्य

kergha

“अख़बार देखके सदमे में आ गया हूं मैं…”: इम्तियाज़ अहमद गाज़ी

हर एक पेज पर बस नफ़रती मसायल हैं, अख़बार देखके सदमे में आ गया हूं मैं।   – इम्तियाज़ अहमद ग़ाज़ी मेरी किताब ‘फूल मुख़ातिब हैं’ से चंद अशआर । यह किताब ‘इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड’ में दर्ज़ की जा चुकी है। ‘गिनिज बुक ऑफ रिकार्ड’ में दर्ज़ होने की ...

Read More »

श्रीमती सुदेवी गौड़ (93) M.A., साहित्य रत्न, साहित्यालंकार का निधन

प्रयागराज। 93 वर्षीय प्रयागराज की साहित्यकार श्रीमती सुदेवी गौड़ M.A., साहित्य रत्न, साहित्यालंकार का आज प्रातः निधन हो गया। उनका अंतिम संस्कार रसूलाबाद घाट पर किया जाएगा। साहित्य के क्षेत्र में उनका अवदान महत्वपूर्ण रहा है। उन्होंने लघु कथाओं का लेखन किया। सुप्रतिष्ठित बंगला कथाकारों जैसे बनफूल, योगेंद्र नाथ गुप्त, ...

Read More »

लखनऊ के प्रतिष्ठित चित्रकार प्रो. डॉ. सुनील सक्सेना को *हिन्द शिरोमणि* सम्मान

लखनऊ के प्रतिष्ठित चित्रकार प्रो. डॉ. सुनील सक्सेना को भव्या फाउंडेशन और भव्या इंटरनेशनल ने *हिन्द शिरोमणि* सम्मान से नवाजा है। यह सम्मान उन्हें  29 जनवरी को जयपुर में दिया जाएगा। प्रोफेसर सुनील सक्सेना रंग, प्रवाह के माण्यम से दृश्य चित्रण के सृजनशील चित्रकार है। आप अपने चित्रों में मृदु ...

Read More »

संस्कृत 2: उत्तर प्रदेश के संस्कृत के विद्वानों का हो रहा है अभिलेखीकरण

डॉ आनंद श्रीवास्तव विद्वानों के अभिलेखीकरण के क्रम में सिर्फ प्रयागराज में ही डेढ़ सौ प्रकांड विद्वान मिल गए हैं हमारी संस्कृत भाषा न तो विलुप्त हो गई है और न ही इस भाषा में लेखन बंद हुआ है। बल्कि संस्कृत भाषी लोगों की संख्या निरंतर बढ़ती ही जा रही ...

Read More »

स्वामी विवेकानन्द जन्म दिवस विशेष: दर्शन, धर्म, इतिहास, सामाजिक विज्ञान, कला और साहित्य सहित विषयों के एक उत्साही पाठक थे वह

स्वामी विवेकानन्द जन्म दिवस विशेष 〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️ स्वामी विवेकानन्द का जन्म 12 जनवरी सन् 1863 (विद्वानों के अनुसार मकर संक्रान्ति संवत् 1920) को कलकत्ता में एक कायस्थ परिवार में हुआ था। उनके बचपन का नाम नरेन्द्रनाथ दत्त था। पिता विश्वनाथ दत्त कलकत्ता हाईकोर्ट के एक प्रसिद्ध वकील थे। दुर्गाचरण दत्ता, (नरेंद्र ...

Read More »

संस्कृत 1: क्या नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 संस्कृत के गौरव को वापस ला पाएगी?

संस्कृत भाषा के प्रकांड विद्वान डॉ आनंद श्रीवास्तव ने संस्कृत में 16 ग्रंथों की रचना की है, विशेष रूप से कालिदास और अघोर तंत्र पर उनका गहरा अध्ययन है। इसके अतिरिक्त “आधुनिक संस्कृत काव्यशास्त्र” में उनकी विशेषज्ञता है। संस्कृत भाषा के पठन पाठन में छात्रों की रुचि कम होने पर ...

Read More »

दिल्ली की आरती तिवारी सनत को “साहित्य सौरभ मानद” उपाधि से विभूषित किया गया

दिल्ली की साहित्यकार आरती तिवारी मानद उपाधि से सम्मानित  श्री भगवती प्रसाद देवपुरा स्मृति समारोह 6 जनवरी-2023 को साहित्य मण्डल श्री नाथद्वारा ने शताधिक कलमकारों के मध्य राष्ट्र भाषा हिन्दी के कलमकारों के साहित्य क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान हेतु नाथद्वारा में आयोजित भव्य समारोह में देश के विभिन्न राज्यों से ...

Read More »

प्रयागराज: वरिष्ठ गीतकार यशवंत सिंह यश पर आधारित केन्द्रित विशेषांक का लोकार्पण एवं काव्यगोष्ठी

*वरिष्ठ गीतकार यशवंत सिंह यश पर आधारित केन्द्रित विशेषांक का लोकार्पण एवं काव्यगोष्ठी* प्रयागराज। शहर समता विचार मंच के तत्वावधान में रविवार 8 जनवरी को वरिष्ठ गीतकार यशवंत सिंह यश पर आधारित केन्द्रित शहर समता के साहित्यिक विशेषांक का लोकार्पण वरिष्ठ कवि विश्वनाथ प्रसाद श्रीवास्तव की अध्यक्षता में आयोजित एक ...

Read More »

विश्व के सबसे बड़े वर्चुअल कवि सम्मेलन में प्रयाग की कवयित्री ललिता पाठक नारायणी ने शहर का गौरव बढ़ाया

बुलंदी साहित्यिक सेवा समिति अंतर्राष्ट्रीय संस्था के द्वारा आयोजित विश्व के सबसे बड़े वर्चुअल कवि सम्मेलन में सहभागिता कर विश्व रिकॉर्ड में प्रयाग की कवयित्री ललिता पाठक नारायणी ने शहर का गौरव बढ़ाया । यह कवि सम्मेलन 21 अगस्त 2022 से 6 सितंबर 2022 तक अनवरत 400 घंटे चला था ...

Read More »

“देख गगन में उड़ रही, पीली हरी पतंग।। “: राकेश मालवीय मुस्कान

पंडित राकेश मालवीय मुस्कान खिचड़ी पर विशेष… विधा : दोहा शीर्षक: विविधता मकर राशि में सूर्य का, होने लगा प्रवेश। धीरे-धीरे ठंड भी, होने लगी अशेष।।1।। माघ मास की ऋतु प्रबल, त्योहारों का वास। संक्रांति के पर्व में, मन में जगा उजास।।2।। तिल लड्डू की धूम है, खिचड़ी पर्व विशेष। ...

Read More »