Home / स्वास्थ्य / COVID-19:कोरोना वायरस को लेकर चर्चा में हैं ये बातें, जानिए सच या झूठ

COVID-19:कोरोना वायरस को लेकर चर्चा में हैं ये बातें, जानिए सच या झूठ

चीन में पहली बार जब कोरोना वायरस का मरीज मिला तो वैज्ञानिक और डॉक्टर भी हैरान रह गए, क्योंकि इससे पहले ऐसी बीमारी से उनका सामना नहीं हुआ था। इस तरह आम लोगों के लिए भी कोरोना बीमारी नई बीमारी ही रही। इस दौरान भारत में सोशल मीडिया पर इससे जुड़ी कई बातें जारी हुईं। इनमें कुछ सही हैं तो कुछ भ्रामक। जानिए इनके बारे में –

1-सर्दी-जुकाम का मतलब कोरोना होना है?
ऐसा बिल्कुल नहीं है। सर्दी-जुकाम, खांसी और बुखार कोरोना वायरस के लक्षण हैं, लेकिन किसी को ऐसा हो रहा है तो इसका मतलब यह नहीं कि उसे कोरोना ही हुआ है। प्रदूषण के कारण भी सूखी खांसी होती है। सामान्य फ्लू में बलमग वाली खांसी और बुखार सामान्य है। हां, यदि सर्दी-जुकाम और तेज बुखार लंबे समय से है तो डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए।

2-क्या कोरोना लाइलाज बीमारी है?
एम्स के डॉ. अजय मोहन के अनुसार, कोरोना वारयस का अभी कोई इलाज नहीं है, लेकिन ऐसा भी नहीं है कि इस संक्रमण का शिकार होने के बाद कोई मरीज ठीक नहीं हो सके। अभी इसके लक्षणों का इलाज किया जा रहा है और अकेले भारत में 10 मरीजों को ठीक किया जा चुका है। चीन में भी हालात अब पहले से काफी सुधर गए हैं और जिंदगी तेजी से पटरी पर लौट रही है।

3-कोरोना वायरस छूने से फैलता है?
यह बिल्कुल सही है। माना जाता है कि यह वायरस चमगादड़ से इन्सानों में आया, लेकिन अब यह इन्सानों से इन्सानों में फैलने लगा है। यही नहीं, कोरोना वायरस सांस के जरिए भी फैल रहा है। मरीज के सम्पर्क में जो-जो लोग आएंगे, उन्हें भी संक्रमण हो जाएगा।

4-हैंड ड्रायर से कोरोना वायरस मर जाता है?
हैंड ड्रायर का कोरोना वायरस पर कोई असर नहीं पड़ता है। इसके बचने का तरीका यही है कि हाथों को समय-समय पर साबुन से धोया जाए। सेनिटाइजर का उपयोग भी किया जा सकता है, लेकिन सबसे ज्यादा जरूरी है हाथों को पानी से धोना। इसके अलावा जो कुछ कहा जा रहा है वह भ्रामक है।

5-अल्कोहल के सेवन से दूर भागता है कोरोना?
कोरोना वायरस के संबंध में अल्कोहल का जिक्र तब हुआ जब सेनिटाइजर की बात चली। दरअसल, अच्छे सेनिटाइजर में एक नियम मात्रा में अल्कोहल भी होता है। इसके बाद सोशल मीडिया पर मैसेज चल पड़े अल्कोहल के सेवन से कोरोना वायरस दूर भागता है, जबकि यह बिल्कुल भी सच नहीं है। कोरोना वायरस से बचने के लिए तो सलाह दी जा रही है कि लोग शराब और सिगरेट से दूर रहें।

6-बुजुर्गों पर जल्दी हमला करता है कोरोना?
यह बात बिल्कुल सही है। दरअसल, कोरोना वायरस हर उस इन्सान को निशाना बना रहा है, जो कमजोर है। उम्र बढ़ने के साथ बीमारियों से लड़ने की ताकत भी घट जाती है। यही कारण है कि सीनियर सिटीजन को इससे बचकर रहने की जरूरत है।

7-पालतू जानवर को भी हो सकता है कोरोना?
सच है। चीन में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं जब पालतू कुत्तों और बिल्लियों में यह संक्रमण पाया गया। मालिकों ने उन्हें मार दिया। चीन से कई ऐसी तस्वीरें भी आई जब कुत्तों या बिल्लियों को मास्क पहने देखा गया।

8-पार्सल के जरिए भी फैल सकता है कोरोना?
जी हां। कोरोना पॉजिटिव शख्स जिस-जिस चीज को छुएगा, वायरस उस पर फैल जाएगा। ऐसे में बाहर से आने वाले पार्सल पर भी कोरोना वायरस हो सकता है। हालांकि इन्सानी शरीर से बाहर यह वायरस बहुत कम समय के लिए जिंदा रह पाता है। यदि कोई पार्सल आया है तो उसे लेने के बाद हाथ अच्छी तरह साफ जरूर करें।

9-क्या मोबाइल फोन से भी फैल सकता है कोरोना?

यदि संक्रमित व्यक्ति ने आपके फोन को छुआ है तो निश्चित तौर पर संक्रमण फैल सकता है। बेहतर होगा फोन की समय-समय पर सफाई करते रहे। फोन की स्क्रीन को सेनिटाइजर से साफ किया जा सकता है।

10-लहसुन-प्याज खाने से नहीं होता कोरोना वायरस?
यह सही नहीं है। सोशल मीडिया पर ऐसे कई नुस्खे चल रहे हैं, लेकिन अब तक पुष्टि नहीं हुई है। इतना आसान हो तो कोराना वायरस का टीका बनाने के लिए दुनियाभर के वैज्ञानिक जूझते नहीं। हां, शरीर की अंदरूनी मजबूती यानी बीमारियों से लड़ने की ताकत बढ़ाने के लिए जो कुछ खाया जा सकता है, वो फायदेमंद हो सकता है, लेकिन मांसाहर से दूर रहें।

Check Also

7th April 2024: Today is “My health, My right” Day

Patient’s care  management needs innovation to improve Quality of  Health Care system In broader Health ...