Home / Slider / उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण का मतदान संपन्न, आईए जाने क्या हैं इन सीटों पर राजनीतिक समीकरण

उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण का मतदान संपन्न, आईए जाने क्या हैं इन सीटों पर राजनीतिक समीकरण

डॉ धीरज कुमार

लोकसभा चुनाव के द्वितीय चरण के लिए शुक्रवार 26 अप्रैल को वोट डाले गएI उत्तर प्रदेश की आठ लोकसभा सीटों पर 2019 के मुकाबले इस चुनाव में मतदान में लगभग 8% की गिरावट दर्ज की गईI उत्तर प्रदेश में द्वितीय चरण में जिन आठ लोकसभा सीटों पर मतदान हुआ उनके नाम हैं अमरोहा, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, बुलंदशहर(सुरक्षित), अलीगढ़ और मथुराI प्रथम चरण की तुलना में द्वितीय चरण में मीडिया और सोशल मीडिया पर तमाम तरह की सरगर्मियां छाई रहींI सत्तारूढ़ दल तथा विपक्षी दलों द्वारा एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप का दौरा शुरू हो गयाI

इस चरण के ठीक पूर्व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह द्वारा जारी वक्तव्य ‘इस देश के संसाधनों पर पहला अधिकार अल्पसंख्यकों विशेषकर मुस्लिम वर्ग का है’ को उद्धृत करते हुए एक रैली के दौरान कहा कि ‘विपक्षी दल ओबीसी समुदाय का आरक्षण, जो ज्यादा बच्चे पैदा करते हैं उनको देना चाहते हैं’I

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि धर्म के आधार पर आरक्षण असंवैधानिक है तथा वह उसे किसी भी कीमत पर होने नहीं देंगेI इसके अतिरिक्त प्रथम चरण में मतदान में गिरावट को लेकर भी तमाम प्रकार के कयास लगाए जाते रहेI हालांकि इस चरण में भी किसी प्रकार की हिंसा या अप्रिय घटना की कोई जानकारी दर्ज नहीं की गई हैI एक तरह से कहें तो यह चरण भी शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न हुआI

आइये अब द्वितीय चरण की उत्तर प्रदेश की आठ लोकसभा सीटों का विश्लेषण करते हैं तथा इस चुनाव के मायने तलाशते हैं:-

अमरोहा लोकसभा क्षेत्र

इस लोकसभा क्षेत्र में विगत 2019 के लोकसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के कुंवर दानिश अली ने महागठबंधन (सपा+बसपा+आरएलडी) के संयुक्त प्रत्याशी के रूप में 601082 मत कर जीत दर्ज की थीI भारतीय जनता पार्टी के कंवर सिंह तंवर 537834 मत प्राप्त कर दूसरे स्थान पर रहे थेI इसके पूर्व 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी कंवर सिंह तंवर ने 528880 मत प्राप्त कर समाजवादी पार्टी की हुमैरा अख्तर को लगभग 160000 मतों के भारी अंतर से हराया थाI हुमैरा अख्तर को 370666 मत प्राप्त हुए थेI इस चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के फरहत हसन को 162983 मत प्राप्त हुए थेI

इस 2024 के लोकसभा चुनाव में इंडिया गठबंधन (सपा+कांग्रेस) ने बहुजन समाज पार्टी छोड़कर आए कुंवर दानिश अली जो कि वर्तमान सांसद भी हैं, को कांग्रेस से प्रत्याशी घोषित किया हैI भारतीय जनता पार्टी ने एक बार पुनः कंवर सिंह तंवर पर भरोसा जताया हैI बहुजन समाज पार्टी ने इस बार मुजाहिद हुसैन को अपना प्रत्याशी बनाया हैI इस चुनाव में इस बात की प्रबल संभावना है कि इंडिया गठबंधन और बहुजन समाज पार्टी दोनों के द्वारा मुस्लिम प्रत्याशियों को उतारे जाने के कारण मुस्लिम व अन्य विपक्षी मतदाताओं के मतों में बिखराव और विभाजन हो, जैसा की 2014 के चुनाव में स्पष्ट रूप से दिखाई पड़ता हैI ऐसी स्थिति में भाजपा की राह आसान दिखाई पड़ रही हैI

मेरठ लोकसभा क्षेत्र

विगत 2019 के लोकसभा चुनाव में मेरठ लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के राजेंद्र अग्रवाल ने 586184 मत अर्जित कर महागठबंधन (सपा+बसपा+आरएलडी) के संयुक्त प्रत्याशी हाजी मोहम्मद याकूब (बसपा) को 5000 के मामूली अंतर से शिकस्त दी थीI इसके पूर्व 2014 व 2009 के आम चुनाव में भी भाजपा के राजेंद्र अग्रवाल जीत दर्ज करने में सफल रहे थेI

इस बार के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने प्रत्याशी बदलते हुए रामायण सीरियल में श्री राम का किरदार निभाने वाले अरुण गोविल को प्रत्याशी बनाया हैI अरुण गोविल मेरठ के ही रहने वाले हैंI वहीं दूसरी ओर इंडिया गठबंधन (सपा+कांग्रेस) ने समाजवादी पार्टी की सुनीता वर्मा को टिकट दिया हैI बहुजन समाज पार्टी ने देवव्रत कुमार त्यागी पर भरोसा जताया हैI यहां भी भाजपा अच्छी स्थिति में है क्योंकि इस सीट पर 2014 व 2009 के लोकसभा चुनाव की भांति ही त्रिकोणीय मुकाबला होने के आसार हैंI जिसका सीधा फायदा भाजपा को मिलने की प्रबल संभावना हैI

बागपत लोकसभा क्षेत्र 

इस लोकसभा क्षेत्र में विगत 2019 के आम चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के डॉक्टर सत्यपाल सिंह ने 525789 मत अर्जित कर राष्ट्रीय लोक दल के जयंत चौधरी (सपा+बसपा+आरएलडी महागठबंधन के संयुक्त प्रत्याशी) को लगभग 25000 मतों से परास्त कियाI इसके पूर्व 2014 में भी डॉक्टर सत्यपाल सिंह भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी के रूप में विजय प्राप्त करने में सफल रहे थेI 2009 के लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय लोकदल के चौधरी अजीत सिंह ने भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन सहयोगी के रूप में जीत दर्ज की थीI 

हालांकि इस बार यह सीट भाजपा रालोद गठबंधन के कारण राष्ट्रीय लोक दल के खाते में गई हैI यहां से राष्ट्रीय लोक दल ने राजकुमार सांगवान को टिकट दिया हैI समाजवादी पार्टी के अमर पाल इंडिया गठबंधन(सपा+कांग्रेस) के संयुक्त प्रत्याशी के रूप में इस बार राष्ट्रीय लोकदल से जोर आजमाइश करेंगेI बहुजन समाज पार्टी ने प्रवीण बैंसला को टिकट दिया हैI जाट मतदाता बाहुल्य, चौधरी चरण सिंह की कर्मभूमि बागपत में भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रीय लोक दल के संयुक्त प्रत्याशी की जीत की संभावना अत्यंत प्रबल हैI

गाजियाबाद लोकसभा क्षेत्र 

इस सीट पर 2019 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के जनरल वीके सिंह ने समाजवादी पार्टी के सुरेश बंसल(सपा+बसपा+आरएलडी महागठबंधन के संयुक्त प्रत्याशी) को लगभग 5 लाख मतों के भारी अंतर से हराया थाI कांग्रेस प्रत्याशी डाली शर्मा 111944 मतों के साथ तीसरे स्थान पर रही थींI भारतीय जनता पार्टी के जनरल वी के सिंह की यह जीत उत्तर प्रदेश की सबसे बड़ी जीत थीI मतदाताओं की संख्या की दृष्टि से भी यह उत्तर प्रदेश की सबसे बड़ी सीट हैI इसके पूर्व 2014 के लोकसभा चुनाव में भी जनरल वीके सिंह ने 545000 मतों के भारी अंतर से विजय दर्ज की थीI 2009 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के ही राजनाथ सिंह विजयी घोषित हुए थेI 

इस बार भारतीय जनता पार्टी ने जनरल वीके सिंह के स्थान पर अतुल गर्ग को प्रत्याशी बनाया हैI इंडिया गठबंधन (सपा+कांग्रेस) ने कांग्रेस की डाली शर्मा पर भरोसा जताया हैI बहुजन समाज पार्टी की ओर से नंद किशोर पुंडीर प्रत्याशी हैंI यह भाजपा का गढ़ मानी जाती है और ऐसा अनुमान है कि भारतीय जनता पार्टी इस बार पुनः इस सीट पर भारी अंतर से विजय दर्ज कर सकती हैI

गौतमबुद्ध नगर लोकसभा क्षेत्र 

विगत 2019 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के डॉक्टर महेश शर्मा ने 830812 मत प्राप्त कर महागठबंधन (सपा+बसपा+आरएलडी) के संयुक्त प्रत्याशी सतवीर नागर (बसपा) को लगभग 340000 मतों के बड़े अंतर से हराया थाI बहुजन समाज पार्टी के सतवीर नागर को 493890 मत प्राप्त हुए थेI इस चुनाव में कांग्रेस तथा आम आदमी पार्टी अपनी जमानत तक नहीं बचा पाई थीI इसके पूर्व 2014 के चुनाव में भी डॉक्टर महेश शर्मा, समाजवादी पार्टी के नरेंद्र भाटी पर बड़े अंतर से जीत दर्ज करने में सफल रहे थेI हालांकि 2009 के लोकसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के सुरेंद्र सिंह नागर ने डॉक्टर महेश शर्मा को लगभग 15000 मतों के अंतर से हरा दिया थाI

इस बार भारतीय जनता पार्टी ने पुनः डॉ महेश शर्मा पर भरोसा जताया हैI वही इंडिया गठबंधन(सपा+कांग्रेस) के संयुक्त प्रत्याशी के रूप में डॉक्टर महेंद्र सिंह नागर (समाजवादी पार्टी) से मैदान में हैंI बहुजन समाज पार्टी ने राजेंद्र सिंह सोलंकी को अपना प्रत्याशी बनाया हैI शहरी मतदाताओं की बहुलता वाली यह सीट आसानी से भारतीय जनता पार्टी के खाते में जाती हुई दिख रही हैI

बुलंदशहर (सुरक्षित) लोकसभा क्षेत्र 

विगत 2019 वह 2014 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के भोला सिंह ने यह सीट बड़े मार्जिन से जीती थीI ऐसा राजनीतिक रूप से माना जाता है कि सुरक्षित सीटों पर भाजपा की स्थिति हमेशा अच्छी रहती हैI बुलंदशहर सीट इसका प्रतिबिंबन करती हैI हालांकि 2009 के लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के कमलेश, भारतीय जनता पार्टी के अशोक कुमार प्रधान पर जीत दर्ज करने में सफल रहे थेI 

वर्तमान चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने भोला सिंह को पुनः अपना प्रत्याशी बनाया हैI इंडिया गठबंधन(सपा+कांग्रेस) की ओर से कांग्रेस के शिवराम प्रत्याशी हैंI बहुजन समाज पार्टी ने नगीना (सुरक्षित) संसदीय क्षेत्र के अपने वर्तमान सांसद गिरीश चंद्र की सीट बदलते हुए उन्हें बुलंदशहर सीट से अपना प्रत्याशी घोषित किया हैI मुकाबला दिलचस्प है लेकिन भारतीय जनता पार्टी यहां भी बढ़त की स्थिति में ही हैI

अलीगढ़ लोकसभा क्षेत्र 

यह सीट 2019 में भारतीय जनता पार्टी के सतीश कुमार गौतम ने 656215 मत प्राप्त कर जीती थीI महागठबंधन (सपा+बसपा+आरएलडी) के डॉ अजीत बालियान दूसरे नंबर पर रहे थेI उन्हें 426954 मत प्राप्त हुए थेI कांग्रेस के विजेंद्र सिंह की जमानत जब्त हो गई थीI इसके पूर्व 2014 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के सतीश कुमार गौतम ने 514622 मत प्राप्त कर लगभग 3 लाख मतों के भारी अंतर से समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशियों को हराया थाI समाजवादी पार्टी के जफर आलम को तब 226284 में प्राप्त हुए थे, जबकि बहुजन समाज पार्टी के डॉ अरविंद कुमार सिंह को 227886 मत प्राप्त हुए थेI कांग्रेस के विजेंद्र सिंह की जमानत जब्त हो गई थीI 2009 में लोकसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी की राजकुमारी चौहान 193444 मत प्राप्त कर विजई हुई थींI तब चतुष्कोणीय मुकाबला थाI

2024 के इस वर्तमान चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने पुनः सतीश कुमार गौतम को अपना प्रत्याशी बनाया हैI वहीं इंडिया गठबंधन (सपा+कांग्रेस) ने कांग्रेस के विजेंद्र सिंह पर भरोसा जताया हैI बहुजन समाज पार्टी ने हितेंद्र कुमार उर्फ बंटी उपाध्याय को टिकट देकर चुनाव को त्रिकोणीय बना दिया हैI यहां भी भारतीय जनता पार्टी बढ़त की स्थिति में हैI

मथुरा लोकसभा क्षेत्र 

विगत 2019 व 2014 के लोकसभा चुनाव में मथुरा सीट पर भारतीय जनता पार्टी की हेमा मालिनी बड़े अंतर से जीत दर्ज करने में सफल रही थींI दोनों बार हेमा मालिनी की जीत का अंतर, अपने निकटतम प्रतिद्वंदी से लगभग तीन लाख मतों का रहा थाI 

हालांकि वर्तमान चुनाव में मथुरा लोकसभा क्षेत्र के वोटरों में बड़े पैमाने पर निराशा देखी गईI मथुरा में पिछले चुनाव की तुलना में इस बार मतदान में लगभग 11% की गिरावट दर्ज की गई, जो मतदाताओं में व्याप्त हतोत्साह का प्रबल द्योतक हैI 2009 में यह सीट भारतीय जनता पार्टी व राष्ट्रीय लोकदल के संयुक्त प्रत्याशी जयंत चौधरी ने राष्ट्रीय लोकदल के सिंबल पर जीती थीI वर्तमान चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने पुनः हेमा मालिनी पर भरोसा जताया हैI इंडिया गठबंधन(सपा+कांग्रेस) की ओर से मुकेश कुमार धनगर (कांग्रेस) प्रत्याशी हैंI बहुजन समाज पार्टी ने सुरेश सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया हैI हालांकि इस लोकसभा क्षेत्र में मतदान प्रतिशत में भारी गिरावट होने के बावजूद कोई बहुत बड़ा उलट फेर होने की संभावना नहीं दिखाई पड़ती हैI हेमा मालिनी पुनः यह सीट आसानी से जीतने में सफल हो सकती हैंI

 लेखक डॉ धीरज कुमार, राजनीतिक विश्लेषक एवं सहायक अध्यापक, जनसंचार विभाग, मिजोरम केंद्रीय विश्वविद्यालय, आइजोल में कार्यरत हैं।

Mob no 7598015205 Email ID [email protected]

Check Also

Dr. Karan Singh’s 75 Years of Public Service

Celebrating a Unique Achievement Dr. Karan Singh’s 75 Years of Public Service Srinagar, June 19: ...