Home / Slider / अयोध्या आरोग्य मेले में योगी ने शिशुओं का अन्नप्राशन कराया

अयोध्या आरोग्य मेले में योगी ने शिशुओं का अन्नप्राशन कराया

आरोग्य व सुपोषण अभियान

डॉ दिलीप अग्निहोत्री


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विकास और संस्कृति दोनों मोर्चों पर गम्भीरता से प्रयास करते रहे है। विकास के अंतर्गत अनेक अभूतपूर्व उपलब्धि हासिल की गई। इसमें फिट इंडिया अभियान भी शामिल है। प्रदेश सरकार ने इसके मद्देनजर भी अभियान चलाया है। संस्कृति का मुद्दा भी अपरोक्ष रूप से विकास से ही जुड़ा है। इससे अंततः तीर्थाटन और पर्यटन को बढ़ावा मिलता है।

योगी आदित्यनाथ की अयोध्या यात्रा में यही तथ्य उजागर हुआ। यहाँ वह एक संत सम्मेलन में सम्मलित हुए। यह भी अयोध्या को विश्व स्तरीय तीर्थाटन स्थल के रूप में विकसित करने का एक कदम है। इसके अलावा योगी ने आरोग्य मेले का भी उद्घाटन किया। प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं का निरंतर विकास किया जा रहा है। योगी ने फिट इंडिया के अंतर्गत अपने सरकारी आवास से सुपोषण अभियान शुरू किया था। यह अभियान भी आगे बढ़ाया जा रहा है।

अयोध्या आरोग्य मेले में योगी ने अनेक शिशुओं को खीर खिलाकर अन्नप्राशन कराया। कई गर्भवती महिलाओं की गोद भराई की। गर्भवती माताओं व नवजात बच्चों का टीकाकरण किया गया। यह भी सुपोषण के प्रति जागृत करने का प्रयास था। यहां बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सेल्फी प्वाइण्ट बनाया गया था। इसके माध्यम से भी जन जागरूकता का सन्देश दिया गया। मुख्यमंत्री आरोग्य मेले का शुभारम्भ दो फरवरी को हुआ था। एक माह के भीतर चार आरोग्य मेले आयोजित किये जा चुके है। आगामी दो वर्षों तक प्रदेश के सभी ग्रामीण व नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर मुख्यमंत्री आरोग्य मेले का आयोजन किया जाएगा। इनमें बिना किसी भेदभाव के सभी को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। आरोग्य मेले में परामर्श व दवा निःशुल्क उपलब्ध करायी जा रही है।

पोषण मिशन के तहत पोषक आहार के साथ योग वेलनेस के माध्यम से स्वस्थ रहने की जानकारी दी जा रही है। ग्रामीण व नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डेन कार्ड का वितरण किया जा रहा है। आरोग्य मेले में गोल्डेन कार्ड बनाये जाते है। इससे परिवार में किसी भी सदस्य का निःशुल्क इलाज हो सकेगा। आरोग्य मेले के माध्यम से प्रदेश को टीबी व फाइलेरिया मुक्त बनाया जाएगा। आयुष्मान भारत योजना के तहत पांच लाख रुपए का चिकित्सा बीमा उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके अलावा योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में सन्तों के उत्सव में भाग लिया। यहां योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना,आयुष्मान भारत योजना,उज्ज्वला योजना, सौभाग्य योजना,किसान सम्मान निधि जैसी योजनाओं का लाभ सभी गरीबों को मिल रहा है।दीपोत्सव में यहां साढ़े पांच लाख दीप प्रज्ज्वलित हुए थे। यह विश्व कीर्तिमान बना था। प्रदेश सरकार ने सबसे पहले अवैध बूचड़खानों को बन्द किया। सभी जनपदों में गो संरक्षण केन्द्र स्थापित किए जा रहे हैं। प्रदेश के गो।आश्रय स्थलों पर लगभग करीब पांच लाख निराश्रित गोवंश का संरक्षण किया जा रहा है। पशुओं के इलाज पर भी ध्यान दिया जा रहा है। आरोग्य मेलो के माध्यम से लोगों को उनके घर के निकट स्वास्थ सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। अब तक आयोजित चार आरोग्य मेलों में सत्रह लाख से अधिक रोगी लाभान्वित हो चुके हैं। आरोग्य मेला प्रदेश के बयालीस सौ से ज्यादा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर प्रत्येक रविवार को आयोजित किया जा रहा है। सवा लाख से अधिक गोल्ड कार्ड बनाए गए हैं।
आरोग्य मेलों को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के साथ चिकित्सा शिक्षा,महिला एवं बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग व पंचायती राज विभाग के साथ को इण्डियन मेडिकल एसोसिएशन का सहयोग मिल रहा है।

Check Also

Australian Veterans cricket team will be at Semmancheri

CUTS-South Asia:Bolstering India -Australia Defence Relations.On 21st February,2024 at 8.30am.YouTube Streaming or Scan the QR ...