Home / Slider / 40 वर्ष की उम्र में गर्भधारण करने में माँ व बच्चे को कई शारीरिक समस्यांए हो सकती हैं

40 वर्ष की उम्र में गर्भधारण करने में माँ व बच्चे को कई शारीरिक समस्यांए हो सकती हैं

त्रिदिवसीय इंडियन मेनोपॉज सोसाइटी के राष्ट्रीय अधिवेशन के अंतिम दिन प्रख्यात स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. ऋषिकेश डी. पाई ने प्रतिष्ठित डॉ ऐ के बंसल स्मृति व्याख्यान देते हुए कहा कि युवावस्था में अण्डाडुओं को फ्रीजिंग तकनीक द्वारा सुरक्षित रखकर चालीस की उम्र के बाद भी स्वस्थ बच्चे को जन्म देना संभव है।

 

एडवांस्ड लप्रोस्कोपिक सर्जन डॉ अर्पित बंसल ने लेप्रोस्कोपी एवं हिस्ट्रोस्कोपी द्वारा रक्त विहीन शल्य क्रिया के विषय में वीडियो दिखाते हुए समझाया ।

इंटरवेंशनल रेडियोलाजिस्ट डॉ हर्षित बंसल ने विभिन्न व्याधियों के इलाज में इंटरवेंशनल रेडियोलोजी की उपयोगिता पर सचित्र प्रकाश डाला। बाल रोग विशेषज्ञ डॉ साक्षी आर बंसल ने ओवेरियन एवं स्तन कैंसर का आनुवंशिक सम्बन्ध के विषय में महत्वपूर्ण जानकारी दी। डॉ प्रभु मिश्रा ने स्टेम सेल की इलाज में उपयोगिता पर प्रकाश डाला । डॉ अंजुला सहाय, डॉ मोनिका सिंह , डॉ रणधीर सिंह , डॉ अमृता चौरसिआ , डॉ रीना श्रीवास्तव ने मीनोपॉज से सम्बंधित समस्याओं और उनके निदान की नवीनतम चिकित्सा तकनीक पर जानकारी साझा की। मीनोपॉज के दौरान हो रही मनोवैज्ञानिक समस्यायों विचार-विमर्श हुआ।  

  • मुंबई से आये डा. ऋषिकेश डी पाई ने डॉ ए के बंसल ओरेशन’ में बताया कि 40 वर्ष की उम्र में गर्भधारण करने में माँ व बच्चे को कई शारीरिक समस्यांए हो सकती हैं। इस उम्र में महिलाओं में अंडाणुओं की संख्या कम होने लगती है। ऐसा भी देखा गया है कि अधिक उम्र में माँ बनने पर नवजात शिशु में आनुवांशिक समस्याएं होने का खतरा अधिक होता है। अधिक उम्र में गर्भधारण की संभावना कम हो जाती है। ऐसे में महिलायें या तो आई वी एफ करवाती हैं या कई बार बच्चे को गोद लेना चाहती हैं, जो बहुत जटिल प्रक्रिया है। इन जटिलताओं को देखते हुए अब कई महिलायें अपना एग फ्रीज करवा रहीं हैं जिससे सही समय आने पर स्वस्थ शिशु को जन्म दे सकें।  

डॉ पाई न बताया कि गर्भधारण की उपयुक्त वैज्ञानिक उम्र 20 से 30 साल के बीच मानी जाती है। लेकिन कैरियर की प्राथमिकता व अन्य व्यक्तिगत कारणों से महिलाएं इस उम्र में शादी करने और मां बनने से परहेज करने लगी हैं । इसलिए आज के युग में बड़े शहरों में एग फ्रीजिंग (Egg Freezing) का चलन बढ़ रहा है। एग फ्रीजिंग महिलाओं को गर्भधारण की सही उम्र बीत जाने के बाद भी प्रेग्नेंसी की सुविधा देती है। यह एक ऐसी प्रक्रिया है जिसमें महिलाओं में गर्भधारण की वास्तविक उम्र में उनसे अंडा निकाल लिया जाता है और इसे सुरक्षित रख लिया जाता है। हम एग फ्रीजिंग 2007 से कर रहें हैं। इसके अलावा हम बड़ी उम्र TV TV cc में प्रेगनेंसी दर को बढ़ाने के लिए ओवेरियन रेजुवेनशन थेरेपी भी करते हैं , इससे भी कई बार बड़ी उम्र में माँ को गर्भधारण करने में मदद मिलती है।  

समापन समारोह में डॉ वंदना बंसल ने तीन दिवसीय संगोष्ठी को सफल बनाने में विशेष सहयोग देने के लिए डॉ अमृता चौरसिया, डॉ अंजुला सहाय,डॉ शान्ति चौधरी ,चित्रा पांडे समेत पूरी टीम को सम्मानित किया और आभार ज्ञापित किया।

Check Also

“Advocate Mr Dinesh Kumar Misra and his family shall not be arrested”: HC

Prayagraj  “Till the next date of listing, petitioners advocate Mr Dinesh Kumar Misra and his ...