Saturday , November 26 2022
Home / Slider / “घर में लगाएं रात में आक्सीजन देने वाले पौधे”

“घर में लगाएं रात में आक्सीजन देने वाले पौधे”

*वायु-प्रदूषण की जानलेवा स्थिति में कुछ आवश्यक सुझाव*

प्रोफ० भरत राज सिंह, महानिदेशक,
स्कूल आफ मैनेजमेन्ट साइंसेस, लखनऊ-226501
मोबाइल- 9415025825 ;
ईमेल: [email protected]

यह हम सभी जानते है कि अधिकतर लोग अच्‍छी नींद पाने के लिए दवाइयों का सेवन करते हैं, लेकिन अगर हम आपको कहे कि सिर्फ कुछ पौधों को घर में लगाने से आप अच्‍छी नींद पा सकते हैं, तो शायद आपको यकीन नहीं होगा। लेकिन यह सच है क्योकि यदि आपको रात मे सोते समय प्रचुर मात्रा मे आक्सीजन नही मिल रही है तो जहा एक तरफ आपको सांस लेने मे बेचैनी महसूस होगी वही दूसरी तरफ आप की नीद मे खलल उत्पन्न होने से आप अठ जायेगे । इससे आप का दिन का भी कार्य प्रभावित होगा । भरत राज सिंह, महानिदेशक, स्कूल आफ मैनेजमेन्ट साइंसेस, लखनऊ ने कुछ पौधों को घरो के अन्दर लगाने की जानकारी दी है, आइये इसे जाने –

रात में आक्सीजन देने वाले पौधे
बदलती जीवन-शैली के कारण नींद न आना एक आम समस्या बन गई है। यह समस्याि हमारी सेहत के साथ-साथ पूरी जिंदगी को प्रभावित करती है। कई लोग तो रात को अच्छी नींद के लिए दवाइयों का सेवन शुरु कर देते हैं। लेकिन दवाओं के बंद करते ही समस्याम फिर से वहीं आ जाती है। लेकिन वह इस बात को नहीं जानते कि आपके बेडरूम में आने वाली हवा की गुणवत्ताफ, आपकी नींद को प्रभावित करती है। इसलिए घर में ताजा हवा का होना बेहद जरूरी है। घर के अंदर रखे कुछ पौधे आपकी इन समस्याैओं को दूर करने में आपकी मदद कर सकते है। अगर आप भी ऐसे ही लोगों में से एक है तो आज हम आपको ऐसे पांच पौधों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हेंत लगाने से आपको नींद तो अच्छी आएगी ही साथ ही शांति का भी एहसास होगा। तो देर किस बात की चलिए हमारे साथ जानते हैं, उन पौधो के बारे में:

*1.0 लैवेंडर का पौधा*
लैवेंडर ऑयल से तो हम सभी वाकिफ है, लेकिन क्या आप जानते हैं इस पौधे को घर में लगाने से वातावरण के साथ आपको घबराहट और स्ट्रेस नहीं होता। साथ ही बेहतर और आरामदायक नींद लाने में मदद करता है। इसके अलावा यह हार्ट रेट को भी धीमा करता है। इसका पौधा छोटे बच्चों को नींद दिलाने में काफी कारगर है।

*2.0 चमेली का पौधा*
चमेली के आकर्षक और खुशबूदार पौधे को घर में गलाने से आपको अनगिनत लाभ प्राप्त होते हैं। चमेली की खुशबू न केवल आपको अच्छी नींद लाने में मदद करेगी बल्कि जब आप सोने के बाद उठेंगे तब आप अपने काम में भी ध्यान लगा पाएंगे और आपकी कार्य क्षमता भी बढ़ेगी। यह पौधा घबराहट की समस्या को भी दूर करता है।

*3.0 इंग्लिश आइवी प्लांट*
इंग्लिश आइवी प्लांट सबसे बेहतर वायु शोधक के रूप में जाना जाता है। शोध के अनुसार यह हवा को 94 प्रतिशत तक शुद्ध करने का काम करता है। यह बड़ी आसानी से लगाया जा सकता है। यह कमरे की हवा को शुद्ध बनाता है। यह पौधा अस्थमा के मरीजों के लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है और आरामदायक नींद के लिए यह बेहतरीन है।

*4.0 स्नेक का पौधा*
वैसे तो लोग स्नेलक प्लांेट घर की सुंदरता को बढ़ाने के लिए इस्तेजमाल करते हैं लेकिन क्याए आप जानते हैं कि यह बेहतर नींद लाने में भी मददगार होता है। यह नाइट्रोजन ऑक्साइड और प्रदूषित हवा को अपने अंदर खींच लेता है। इसलिए शुद्ध हवा पाने के लिए इसे आप अपने घर में लगा सकते हैं। इस पौधे की एक और खास बात है कि रात में जब सारे पौधे नाइट्रोजन छोड़ते हैं तो यह ऑक्सीजन देता है। तो देर किस बात की आज ही इसे अपने घर का हिस्साय बनाये।

*5.0 एलोवेरा का पौधा*
एलोवेरा को आज शायद किसी परिचय की जरूरत नहीं है, सौंदर्य से लेकर स्वाऑस्य्ै। सभी समस्यांओं को दूर करने के लिए एलोवेरा का इस्तेिमाल किया जा रहा है। लेकिन यह पौधों आपको अच्छी नीद लाने में भी मदद करता है। जी हां एलोवेरा रात को ऑक्सीजन छोड़ता है जिसका सकारात्मौक असर सेहत पर नजर आता है। नींद ना आने की बीमारी में फायदा मिलता है और नींद भी अच्छी आती है।

अगर आप घर मे वातानुकूलन-सन्यंत्र (एसी / ब्लोअर) का उपयोग करते है तो आपको अपने सेहत के लिये विशेष रूप से सावधानी बरतनी होगी। क्योकि वातानुकूलन-सन्यंत्र चलाते समय कमरे को चारो तरफ से हवा अंदर न आये इसलिये बंद करना होता है, जिससे कमरे मे ठंडा अथवा गर्म होने का प्रभाव अधिक हो । परंतु आप जानते है कि यदि कमरे मे हवा आने के लिये कोई सूराग नही मिलेगा, तो अंदर की हवा मेसे धीरे-धीरे आक्सीजन की मात्रा कम होती चली जायेगी और आपकी शेहत भी खराब होनी शुरू हो जायेगी और आप रोगग्रस्त होने से बच नही पायेगे । अतः आप उपरोक्त पौधो को अपने घरो मे अवश्य लगाये।


************

Check Also

प्रयागराज: *वरिष्ठ नागरिक काव्य मंच पूर्वी उत्तर प्रदेश इकाई की काव्यगोष्ठी सम्पन्न*

*वरिष्ठ नागरिक काव्य मंच पूर्वी उत्तर प्रदेश इकाई की काव्यगोष्ठी सम्पन्न* *खुशबू बता रही है ...