Home / Slider / आरती तिवारी का “जुनून” और “ईमानदारी”: कविताएं

आरती तिवारी का “जुनून” और “ईमानदारी”: कविताएं

जुनून होना है जरूरी, तभी तुम नया इतिहास रच सकते हो . …! वरना औसत सा जीवन तो सभी को मिला है, जीने के लिए !

आरती तिवारी “सनत”

: जुनून:
******

लक्ष्य को पाने का
जुनून जब हो आप में ……!
इस जहाँ में एैसा कुछ भी नहीं

जो हासिल न हो आपको … !
जुनून ही मानव का जो चाँद पर पहुँच गया … जुनून से ही आज तकनीकी क्रान्ति

दूर देश हो या गाँव

सब एक दूसरे से सम्पर्क में

सब विकास की ओर जा रहे .. !

जुनून ही उन महिलाओं का जो हर क्षेत्र में परचम लहरा रही …. !
देश ही नहीं दुनियाँ में भारत का मान बढा़ रहीं … !

जुनुन ही है मोदी का जो फिर से प्रधान मंत्री बने ,
भारत को विकासशील देश की श्रेणी में अग्रणी बना रहे …!

जुनून होना है जरूरी
तभी तुम नया इतिहास रच सकते हो . …!
वरना औसत सा जीवन तो सभी को मिला है

जीने के लिए !

: ईमानदारी — एक जीवन शैली:
************

ईमानदारी वह धन है
जिसके पास होती है
उसे दुनिया में कोई हरा
नहीं सकता ……
झुठ ,छल -कपट ,बेइमानी, धोखा -धड़ी,लालच , ईर्ष्या 
बनावटी दिखावे की
प्रतिस्पर्धा ……
भ्रष्टाचार, अपराध
बाहुबली का प्रदर्शन
इनका ताना -बाना बुनते -बुनते
एक दिन जमींदोज
हो जाओगे …..
पल में सब खाक हो
जायेगा
झूठ की बुनियाद पर
रखा ख्वाबों का महल
रह जायेगा …..
अपमान ,तिरस्कार
जो तुमने धरती पर बोये झूठे दंभ,
नफरत , कलुषित
विचारों के बीज
एक ही नहीं कई पीढ़ियों में यह
अंकुर बन फुटेगा
मानव तो क्या …
मानवता को दंश जायेगा ..!

ईमानदारी से
जीवन में जीने की शैली को जो अपनायेगा ….
हिमालय सा अडिग
गंगाजल सा पवित्र
पीपल के पत्तों सा गतिमान …
तुलसी के पौधे सा
पूजनीय ….
सागर सा विशाल
ह्र्दय… …हो
सत्यनिष्ठ बन
जमीं तो जमीं
आसमाँ में भी उसका
सितारा बुलंद है ,
ध्रुव तारा बनकर
सदा चमकता
रहेगा एक नहीं कई
पीढियों तक
अनुसर किया जायेगा
डॉ.ईश्वर चंद विद्यासागर के जैसा
ईमानदारी का पाठ
विद्यालय में पढा़या
जायेगा ……!!
ईमादारी एक
जीवन शैली
जो अपनायेगा
सारे जहॉन में नाम
रोशन कर जायेगा ….
ईमानदारी एक
जीवन शैली ….!!!

Check Also

Australian Veterans cricket team will be at Semmancheri

CUTS-South Asia:Bolstering India -Australia Defence Relations.On 21st February,2024 at 8.30am.YouTube Streaming or Scan the QR ...