Home / Slider / हिंदू नेता रणजीत बच्चन हत्याकांड नहीं सुलझा

हिंदू नेता रणजीत बच्चन हत्याकांड नहीं सुलझा

चेहरे तमाम, कातिल कौनॽ


ए अहमद सौदागर

लखनऊ

किसने विश्व हिंदू महासभा के अध्यक्ष रणजीत बच्चन को गोलियों से भूना, किसके कहने पर करीब 3 किलोमीटर टहलने के लिए ग्लोबल पार्क जाने के लिए कहा, किसने ताबड़तोड़ फायरिंग की। चेहरे तमाम है, लेकिन कातिल कौन है, यह सवाल पुलिस के सामने है।
इस मामले में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज मिलने के बाद उस शख्स का नाम 24 घंटे की पड़ताल के भीतर ही पता लगा लिया।


हालांकि इस बाबत जांच में पुलिस अधिकारी अभी कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं।

हत्यारों का सुराग मिला

क्राइम ब्रांच सहित 8 टीमें छानबीन में जुटी। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि बहुत जल्द ही हत्यारे सलाखों के पीछे होंगे।

जानकार सूत्रों की माने तो सीसीटीवी फुटेज में मिली तस्वीर की शिनाख्त करने के बाद पुलिस की टीमें गोरखपुर सहित पूर्वांचल के कई जिलों में लगातार दबिश दे रही है।
विश्व हिंदू महासभा के अध्यक्ष रणजीत बच्चन का हजरतगंज स्थित ग्लोबल पार्क के पास रविवार की सुबह कत्ल कर दिया गया था। बदमाशों ने उन्हें उस समय गोलियों से छलनी कर दिया था, जब वह ओसियार बिल्डिंग यानी अपने घर से अपने मुंह बोले भाई आदित्य और पत्नी कालिंदी के साथ मॉर्निंग वॉक के लिए निकले थे।


हत्यारों की तलाश में एसटीएफ, क्राइम ब्रांच सहित पुलिस की आठ टीमें लखनऊ के अलावा पूर्वांचल के कई जिलों में लगातार दबिश दे रही है। हालाकी 24 घंटे गुजरने के बाद भी पुलिस इस नतीजे पर नहीं पहुंच सकी है कि बच्चन की हत्या किसने और क्योंकि।
जानकार सूत्रों की माने तो इस हत्याकांड में तरह-तरह की चर्चाएं व्याप्त है। कोई से सियासी से जोड़कर तो कोई से आपसी विवाद को लेकर चर्चा करते फिर रहा है।
उधर कातिलों की खोज को लेकर पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे लगाता अपने मातहतों के साथ बैठक कर रहे।
बताया जा रहा है कि पुलिस अफसरों का दावा है कि हत्यारों का सुराग लग गया है और जल्द ही कातिल सलाखों के पीछे होंगे।
उधर सूत्र बताते हैं कि पुलिस ने शक के आधार पर आपराधिक प्रवृत्ति के कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया है। वही अभी बताया जा रहा है कि पुलिस ने मृतक के करीबी रिश्तेदारों से लेकर परिजनों की हत्या के मामले में पूछताछ कर रही है।

पूर्वांचल के शूटरों पर नजर

विश्व हिंदू महासभा के अध्यक्ष रणजीत बच्चन के हत्यारों की तलाश में एसटीएफ व क्राइम ब्रांच की टीमें गोरखपुर सहित आसपास के जिलों के सूचीबद्ध शूटरों पर नजर गड़ा दी है।
हजरतगंज में घटना के समय शूटरों की मौजूदगी पता लगाने के लिए सर्विलांस सेल की मदद ली जा रही है। सूत्रों की माने तो पुलिस की टीमें पूर्वांचल के दो शहरों पर खास नजर डाले हुए है।
हजरतगंज के ग्लोबल पार्क के पास रणजीत बच्चन की हत्या में पूर्वांचल के स्वरों का हाथ माना जा रहा है। सूत्रों की तलाश के लिए पुलिस टीमें जाल बिछा दिया है।
बताया जा रहा है कि पुलिस कई सूचीबद्ध शूटरों के बारे में छानबीन कर रही है।
सर्विलांस के जरिए सक्रिय शूटरों की लोकेशन पता की जा रही है।
यह पता लगाया जा रहा है कि हजरतगंज स्थित ग्लोबल पार्क के पास रविवार की सुबह किस शूटर की लोकेशन घटनास्थल के आसपास थी।
जांच में जुटे एक अधिकारी के मुताबिक वोटरों के पूर्वांचल के होने का संदेश जताया जा रहा है।

जेल में निरुद्ध बदमाशों से पूछताछ

रणजीत बच्चन के कातिलों तक पहुंचने के लिए पुलिस
जेल में निरुद्ध अपराधियो से भी पूछताछ कर रही है।
जिला जेल मैं भी कुछ बंदियों से सोमवार को पूछताछ की गई। इसके अलावा प्रदेश के अन्य जेलों में बंद शातिर बदमाशों और उनकी गतिविधियों पर भी नजर रखी जा रही है।

Check Also

सुरभि गुप्ता ने “महिला सशक्तिकरण के लिए योग” की थीम पर कराया योगाभ्यास

राष्ट्रीय सेवा योजना, इलाहाबाद विश्वविद्यालय द्वारा विज्ञान संकाय परिसर के विजयानगरम उद्यान में अंतरराष्ट्रीय योग ...