Sunday , October 24 2021
Home / Tag Archives: रचना सक्सेना

Tag Archives: रचना सक्सेना

“करवाचौथ एक ऐसा पावन पर्व है जो स्त्री पुरुष के पावन प्रेम को एक पवित्र रिश्ते के रूप में व्याख्या करता है”: रचना सक्सेना

‌करवाचौथ सुहागिनों का त्योहार है। पति पत्नी कें अटूट प्रेम का त्योहार है। यह एक ऐसा त्योहार है जो हमारे देश की भारतीय संस्कृति की विशेषता को दर्शाता है। जब हम इतिहास में सभ्यता और संस्कृति की बात करते है तो हम देखते है कि विश्व में यदि कोई संस्कृति ...

Read More »

हिन्दी साप्ताहिक शहर समता के महिला काव्य गोष्ठी विशेषांक का लोकार्पण

*महिला काव्यगोष्ठी विशेषांक का लोकार्पण एवं काव्यगोष्ठी* प्रयागराज । हिन्दी साप्ताहिक शहर समता के महिला काव्य गोष्ठी विशेषांक का लोकार्पण किया गया। आज शहर समता के कार्यालय में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि मीरा सिन्हा विशिष्ट अतिथि जया मोहन श्रीवास्तव रहीं । लोकार्पण कार्यक्रम की शुरुआत में वाणीं वंदना ...

Read More »

“शलभ” साहित्यिक संस्था का साठवा “स्थापना समारोह”

*शलभ साहित्यिक संस्था का साठवा “स्थापना समारोह* शलभ साहित्यिक सांस्कृतिक संस्था का साठवा स्थापना दिवस समारोह नया बैरहना में आयोजित किया गया। रविवार को काव्यगोष्ठी एवं संगीता भाटिया के साठवें जन्मदिन की अध्यक्षता देवेंद्र कुमार श्रीवास्तव ‘देवेश’ ने की जबकि मुख्य अतिथि शिक्षाविद हेमलता भाटिया थी। संचालन शंभुनाथ त्रिपाठी ‘अंशुल’ ...

Read More »

महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर राष्ट्रीय भावना से ओतप्रोत काव्य प्रतियोगिता

*महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर राष्ट्रीय भावना से ओतप्रोत काव्य प्रतियोगिता आयोजित* प्रयागराज। राष्ट्रीय महिला रचनाकार मंच के तत्वावधान में शहर समता विचार मंच की ओर से रचना सक्सेना के संयोजन में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री के सम्मान में एक देशभक्ति गीत पर आधारित ...

Read More »

“मेरे पिता सूरज प्रसाद सक्सेना”: कोरोना काल में समाज के लिये बने मिसाल : रचना सक्सेना

समाज और नई पीढ़ी को सही दिशा दिखाने एवं मार्गदर्शन में हमारे बुजुर्गों का विशेष स्थान है। समाज के नैतिक मूल्य और संस्कृति तभी तक जीवित है जब तक हमारे समाज में हमारे बुजुर्गों के अनुभवों और विचारों का सम्मान है जो एक देश, एक समाज और एक परिवार को ...

Read More »

“वर्तमान परिप्रेक्ष्य में मुंशी प्रेमचंद की विचारधारा* विषय पर संगोष्ठी / काव्य गोष्ठी”

मानवीय संवेदनाओं को मजबूती से प्रस्तुत करते हैं मुंशी प्रेमचंद… डाॅ सविता प्रयागराज । शहर समता विचार मंच के तत्वावधान में मुंशी प्रेमचंद की 141 वीं जयंती का आयोजन किया गया, जिसमें प्रयागराज के और सुदूर राज्यों से जुड़े साहित्यानुरागियों ने. *वर्तमान परिप्रेक्ष्य में मुंशी प्रेमचंद की विचारधारा* विषय पर ...

Read More »

” मां सृष्टि है तो ब्रह्मांड है पिता, मां वरदान है तो आशीर्वाद है पिता”

प्रयागराज । राष्ट्रीय महिला रचनाकार मंच के तत्वावधान में पितृ दिवस पर आधारित एक दो दिवसीय आयोजन रचना सक्सेना के संयोजन एवं संचालन में सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। इस आयोजन की अध्यक्षता वरिष्ठ रंगकर्मी और अधिवक्ता डा. ऋतन्धरा मिश्रा ने की जिसमें देश विदेश की अनेक महिलाओं ने पिता पर आधारित ...

Read More »

*शहर समता के महिला काव्य गोष्ठी विशेषांक का लोकार्पण*

*शहर समता के महिला काव्य गोष्ठी विशेषांक का लोकार्पण* प्रयागराज । हिन्दी साप्ताहिक शहर समता के महिला काव्य गोष्ठी विशेषांक का लोकार्पण आज महिला काव्य गोष्ठी की राष्ट्रीय महासचिव सुमन ढींगरा दुग्गल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। लोकार्पण समारोह की मुख्य अतिथि रही प्रयागराज की वरिष्ठ साहित्यकार प्रेमाराय । इस ...

Read More »

”ऐसी ख़ुशबू तू मुझे आज मयस्सर कर दे, जो मेरा दिल मेरा एहसास मोअत्तर कर दे”

हिन्दी साप्ताहिक शहर समता का स्थापना दिवस समारोह ”ऐसी ख़ुशबू तू मुझे आज मयस्सर कर दे” प्रयागराज । शहर समता विचार मंच के तत्वावधान में 20 मई को हिंदी साप्ताहिक शहर समता अख़बार के स्थापना दिवस पर प्रयागराज के सम्मानित वरिष्ठ कवि डॉ शंभु नाथ त्रिपाठी की अध्यक्षता में एक काव्यगोष्ठी का ...

Read More »

महिला काव्य गोष्ठी की राष्ट्रीय काव्य संध्या “मोहे रंग दे तू कान्हा अपने रंग में”  

महिला काव्य गोष्ठी की राष्ट्रीय काव्य संध्या मोहे रंग दे तू कान्हा अपने रंग में   प्रयागराज । आज शहर समता विचार मंच की महिला काव्य गोष्ठी के तत्वावधान में होली पर्व पर आधारित  एक राष्ट्रीय काव्य संध्या का आयोजन शहर समता (हिंदी साप्ताहिक) के संपादक उमेश श्रीवास्तव की अध्यक्षता में ...

Read More »