Home / Slider / योगी ने अपनी उपलब्धियां बयान की

योगी ने अपनी उपलब्धियां बयान की

विपक्ष ने सीएए पर विशेष फोकस किया

डॉ दिलीप अग्निहोत्री

विधानमंडल का सत्र पक्ष और विपक्ष दोनों के लिए अवसर की भांति होता है। अपने विचार प्रस्तुत करने का यह प्रदेश में सर्वोच्च मंच होता है। सरकार अपनी उपलब्धियां बयान करने का मौका नहीं छोड़ती,जबकि विपक्ष सरकार पर हमले में नहीं चूकता। लेकिन सदन में जितना हंगामा होता है,विपक्ष के लिए उतना ही अवसर कम हो जाता है। उसे सरकार की निंदा में जो समय लगाना चाहिए,उसे प्रायः हंगामे की भेंट कर दिया जाता है। दूसरी ओर सरकार अपनी बात रखने में एक सीमा तक सफल हो जाती है। यहां कही गई बात आमजन तक आसानी से पहुंच भी जाती है। इस बार उत्तर प्रदेश विधानमंडल सत्र में यही देखने को मिला। विपक्ष ने सीएए पर विशेष फोकस किया।

राज्यपाल के अभिभाषण और फिर दोनों सदनों में धन्यवाद प्रस्ताव पर जबाब के माध्यम से सरकार अपने विचार लोगों तक पहुंचाने में सफल रही। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहले विधानसभा में धन्यवाद प्रस्ताव चर्चा का जबाब दिया। इसमें उनका दावा था कि पिछली सरकारों पर उनके तीन वर्ष का कार्यकाल बहुत भारी है।

विधानपरिषद में भी योगी ने अपनी उपलब्धियां बयान की। उन्होंने ग्रामीण विकास, स्वास्थ,सहित अनेक कार्यों का उल्लेख किया। प्रदेश में आमजन तक स्वास्थ सुविधा पहुंचाने के लिए आरोग्य मेलों का आयोजन किया जा रहा है। चार हजार प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर इन मेलों का आयोजन किया जा रहा है। इनमें अब तक सत्रह लाख से अधिक मरीजों का इलाज किया गया। जिन चिकित्सालयों में विशेषज्ञ चिकित्सक उपलब्ध नहीं हैं, वहां पर टेलीमेडिसिन के माध्यम से मरीजों को चिकित्सा सम्बन्धी परामर्श दिया जा रहा है। यहां जांच की सुविधा भी प्रदान की जा रही है। प्रदेश के विभिन्न जनपदों में नये मेडिकल काॅलेज स्थापित करने का कार्य प्रगति पर है। इस सरकार के आने से पूर्व प्रदेश में मात्र सोलह मेडिकल काॅलेज थे। जबकि पिछले ढाई वर्षों उनतीस नये मेडिकल काॅलेज बन रहे हैं। प्रदेश के सभी जनपदों में एक एक मेडिकल काॅलेज स्थापित किया जाएगा। सरकार इस दिशा में प्रयास कर रही है। सरकार एमबीबीएस करने वाले छात्रों को पास आउट होने पर उनसे बाॅण्ड भरवाने पर भी विचार कर रही है। इसके तहत उन्हें ग्रामीण क्षेत्र में अपनी सेवाएं देनी पड़ेंगी।
प्रदेश में चिकित्सकों की कमी को दूर करने के लिए सात नये मेडिकल शिक्षा की व्यवस्था चल रही है।
योगी ने पहले भी बताया था कि दीपावली तक पूर्वांचल एक्सप्रेस आवागमन हेतु खोल दिया जाएगा। जबकि इसी महीने बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का शिलान्यास प्रधानमंत्री द्वारा किया जाएगा।

Check Also

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 3 करोड़ घरों के निर्माण कराएगी सरकार

सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के तहत 3 करोड़ ग्रामीण और शहरी घरों के निर्माण ...